Top

औरैया में भीषण सड़क हादसे में 24 मजदूरों की मौत, चाय पीने के लिए ढाबे के पास रूकी थी प्रवासी मजदूरों से भरी ट्रक

उत्तर प्रदेश के औरैया में शनिवार तड़के भीषण सड़क हादसा हो गया, जिसमें 24 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई जबकि 35 लोग घायल हैं। घायलों को सैफई मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। जबकि 4 गंभीर रूप से घायलों को राजधानी लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज भेजा गया।

यह हादसा शनिवार सुबह दो बजे हुआ, जब मजदूरों को लेकर आ रही एक ट्रक कंटेनर सामने से तेज रफ्तार डीसीएम से भीड़ गई। ढाबे पर खड़े इस ट्रक कंटेनर में लगभग 80 के संख्या में प्रवासी मजदूर सवार थे। अधिकतर मजदूर पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के थे। जबकि बुंदेलखंड के भी कुछ प्रवासी इस ट्रक पर सवार थे।

जब यह हादसा हुआ तब कंटेनर चालक पास के ढाबे पर चाय पीने गया था और मजदूर सो रहे थे। कई मृतको के नंबर मिलने पर उनके परिजनों को सूचना दी गई है। मंडलायुक्त सुधीर एम बोबड़े ने बताया कि घटना की जांच के आदेश दिए है। कई मृतकों की पहचान भी की जा चुकी है।

कंटेनर में सवार बोकारो, झारखंड के शंभू महतो ने मीडिया को बताया कि वे लोग चाय पीने के लिए रूके थे। कुछ सो रहे थे और कुछ जाग रहे थे कि अचानक से एक गाड़ी आई और तेज टक्कर मार दिया। इसके बाद गाड़ी गढ्ढे में गिर गई।

टक्कर इतना तेज था कि कंटेनर और डीसीएम दोनों गढ्ढे में जा गिरें। मौके पर कमिश्नर आईजी समेत जिले के तमाम अधिकारी पहुंचे हैं और स्थिति का जायजा ले रहे हैं। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मौके पर पंहुंचे कमिश्नर सुधीर एम बोबड़े को फोन कर घटना की जानकारी ली और शोक संवेदना व्यक्त किया। उन्होंने घायलों के बेहतर इलाज के निर्देश दिए और सभी के स्वस्थ्य होने की कामना की।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने घटना पर शोक जताते हुए ट्वीट किया कि ऐसे हादसे मृत्यु नहीं हत्या हैं। उन्होंने इस हादसे में मरने वाले उत्तर प्रदेश के मृतक परिवारों को एक लाख रूपये देने की घोषणा की और योगी सरकार से मांग किया कि मृतकों को दस लाख रूपये का मुआवजा सरकार की तरफ से दिया जाए।

वहीं एक और सड़क हादसे में महोबा में श्रमिकों से भरा ट्रक पलट गया। इस हादसे में भी 20 मजदूर घायल हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों को दो लाख और घायलों को 50 हजार देने की बात कही है। साथ ही मुख्यमंत्री ने सभी डीएम और एसपी को निर्देश दिए है कि वह यह सुनिश्चित करें कि प्रवासी मजदूर पैदल अथवा मोटरसाइकिल से यात्रा ना करें। उन्होंने ऐसे ट्रक चालकों पर कार्रवाई की बात भी कही है।

मृतकों के नाम

उत्तर प्रदेश--

1-अर्जुन चौहान पुत्र गोविंद चौहान निवासी,थाना मुंडेरा कमाल गंज, जनपद कुशीनगर।

2-मुकेश पुत्र श्रीधर विश्वकर्मा थाना ओराई संत रविदास नगर

3-नंद किशोर निवासी भटपुरा मऊ रानी झांसी।

4-राकेश पता अज्ञात

5-कीर्ति पता अज्ञात

बिहार

1-केदारी यादव पुत्र मुन्ना यादव निवासी बारा चट्टी गया बिहार।

2-सतेंद्र पुत्र मोहन निवासी बजौरा जिला गया बिहार।

झारखंड

1-राहुल सहीस पुत्र विभूति ग्राम गोलाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

2-कनि लाला पुत्र जीता महोत निवासी गोलाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

3-राजा गोश्वामी निवासी गोपाल पुर थाना चंदन क्वारी जिला बोकारो।

4-गोवर्धन पुत्र गोरांगो निवासी खीरा बेड़ा थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

5-उत्तम गोश्वामी पुत्र सुधीर गोश्वामी गोपाल पुर थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

6-डॉक्टर महतो पुत्र गोपाल महतो ग्राम बाबू डीह थाना पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

7-सोमनाथ गोश्वामि निवासी पिंडरा जोरा जिला बोकारो।

पश्चिम बंगाल--

1-मिलन बधोकर निवासी दुम दुमि थाना जनपद पुरलिहा

2-अजीत महतो पुत्र अनिल महतो निवासी उपरावती थाना पुरलिहा।

3-चंदन राजभर पुत्र भिक्ष्कारा राजभर दुंदुमि पुरलिहा।

4-गडेश पुत्र तरु राजो दुमदुमि पुरलिहा।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.