चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण अब 22 जुलाई को, तकनीकी खराबी के कारण हुआ था प्रक्षेपण रद्द

चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण अब 22 जुलाई को, तकनीकी खराबी के कारण हुआ था प्रक्षेपण रद्दफोटो सोर्स- इसरो ट्वीटर

लखनऊ। भारत का चांद पर दूसरा मिशन चंद्रयान-2 को अब 22 जुलाई को पूरा किया जाएगा। कुछ तकनीकी खराबी के कारण 14 जुलाई को इसका प्रक्षेपण रोक दिया गया था।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को ट्वीट किया, "चंद्रयान-2, जिसका प्रक्षेपण 14 जुलाई 2019 को तकनीकी खराबी के चलते रोक दिया गया था, वह अब सोमवार 22 जुलाई 2019 तड़के दो बजकर 43 मिनट पर प्रक्षेपित किया जाएगा।" इसरो ने लोगों के समर्थन के लिए जनता का धन्यवाद भी दिया।

बाहुबली कहे जा रहे भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण वाहन जीएसएलवी मार्क-।।। के जरिए होने वाला चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण 14 जुलाई देर रात 2:51 बजे होना था। मिशन के प्रक्षेपण से 56 मिनट 24 सेकंड पहले मिशन नियंत्रण कक्ष से घोषणा के बाद रात 1.55 बजे रोक दिया गया था। भारत की अंतरिक्ष एजेंसी के वैज्ञानिक उस समस्या की गंभीरता का आकलन कर रहे हैं, जिसने महत्वाकांक्षी 976 करोड़ रुपये के चंद्र मिशन को रोक दिया था।

(भाषा से इनपुट के साथ)



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top