उन्नाव गैंगरेप मामले की जांच और अदालती प्रक्रिया का संज्ञान ले सुप्रीम कोर्ट :कांग्रेस

उन्नाव गैंगरेप मामले की जांच और अदालती प्रक्रिया का संज्ञान ले सुप्रीम कोर्ट :कांग्रेस

कांग्रेस ने उन्नाव रेप मामले में आए नए मोड़ पर सुप्रीम कोर्ट से संज्ञान लेने को कहा है। रेप पीड़िता के सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल होने की घटना पर कांग्रेस ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर हो रही है।

कांग्रेस ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को इस मामले की जांच और अदालती प्रक्रिया को संज्ञान में लेना चाहिए ताकि मामले में न्याय हो सके और पीड़िता की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके।

अगर रेप का आरोपी बीजेपी विधायक हो तो सवाल मत पूछिए: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उन्नाव बलात्कार मामले की पीड़िता के सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल होने की घटना को लेकर सोमवार को बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मौजूदा समय में अगर बलात्कार का आरोपी बीजेपी विधायक हो तो सवाल पूछना मना है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, "बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ। भारतीय महिलाओं के लिए एक नया विशेष शिक्षा बुलेटिन है। अगर भाजपा विधायक आपसे बलात्कार का आरोपी हो तो सवाल मत पूछिए।"

बीजेपी सरकार से न्याय की उम्मीद नहीः प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी इस मामले में ट्वीट कर चुकी हैं। उन्होंने लिखा, "बलात्कार पीड़िता के साथ सड़क दुर्घटना का हादसा चौंकाने वाला है। इस केस में चल रही CBI जाँच कहाँ तक पहुँची? आरोपी विधायक अभी तक भाजपा में क्यों हैं? पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढिलाई क्यों? इन सवालों के जवाब बिना क्या बीजेपी सरकार से न्याय की कोई उम्मीद की जा सकती है?"

यह महज दुर्घटना नहीः रणदीप सुरजेवाला

कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस हादसे को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ पर भी निशाना साधा और सवाल किया कि क्या यह महज दुर्घटना थी या फिर हत्या का षड्यंत्र था?

सुरजेवाला ने एक बयान में कहा, "उन्नाव रेप मामले की पीड़िता के साथ हुए हादसे ने पूरे देश की आत्मा को झकझोर कर रख दिया है। मामले के मुख्य आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर और सहयोगी लोगों को भाजपा का संरक्षण मिला, उसे पूरा देश जानता है।"

उन्होंने कहा, जिस प्रकार से पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में हत्या की गई, उसके साक्षी भी सब लोग हैं। यहां तक कि चश्मदीद गवाहों की रहस्यमय हालात में हत्या कर दी गई। अब पीड़िता ने परिवार के कुछ अन्य लोगों को खो दिया।

सुरजेवाला ने सवाल किया, "क्या कारण है कि पीड़िता की सुरक्षा में लगे सुरक्षाकर्मी दुर्घटना के समय उसके साथ नहीं थे? क्या कारण है कि जिस ट्रक से हादसा हुआ उसकी दोनों नंबर प्लेटों पर ग्रीस पोत दिया गया? क्या यह नहीं बताता कि यह हादसा नहीं, बल्कि हत्या का षड्यंत्र है।"

योगी सरकार पर तंज कसते हुए सुरजेवाला ने कहा, "आदित्यनाथ जी, मेरा कातिल ही मेरा मुंसिफ़ है, वो क्या मेरे हक़ में फ़ैसला देगा?"

यूपी में कानून व्यवस्था की स्थिति बदतरः मनीष तिवारी

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, "उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बदतर चुकी है। अराजकता की स्थिति है। उन्नाव की घटना पर पर्दा डालने की कोशिश हो रही है। यह चिंता का विषय है।"

मनीष तिवारी ने दावा किया, "हादसे वाले ट्रक के नंबर प्लेट को जिस तरह काला किया गया उससे साफ होता है कि अभियुक्तों को संरक्षण देने की साजिश है। अमेठी में भी फौज के एक सेवानिवृत्त अधिकारी को घर से निकालकर मारा गया। ये घटनाएं दिखाती हैं कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत बहुत खराब है।"

तिवारी ने कहा, "हमारी मांग है कि सुप्रीम कोर्ट उन्नाव मामले की जांच और अदालत की पक्रिया को अपने संज्ञान में ले ताकि मामले में न्याय हो सके एवं पीड़िता की अवाज को दबाया नहीं जा सके।"

गौरतलब है कि गत रविवार को हुए सड़क हादसे में उन्नाव रेप मामले की पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई। हादसे में पीड़िता की मौसी, चाची और ड्राइवर की मौत हो गई। पीड़ित महिला और उसके वकील को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

(भाषा से इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें- उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामला: प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा- इस जगह पहले भी होते रहे हैं एक्सीडेंट


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top