18 जुलाई: आज ही के दिन ब्रिटिश संसद में पारित हुआ था भारत की आजादी का विधेयक

18 जुलाई: आज ही के दिन ब्रिटिश संसद में पारित हुआ था भारत की आजादी का विधेयक

लखनऊ। 18 जुलाई का दिन भारतीय स्वतंत्रता के इतिहास में महत्वपूर्ण है। माउंटबेटन योजना के आधार पर ब्रिटिश संसद में 18 जुलाई, 1947 को भारत की आजादी का विधेयक पारित हुआ था। यह बिल 4 जुलाई, 1947 को ब्रिटिश संसद में पेश हुआ था।

यह बिल स्वतंत्र भारत के स्वरूप के निर्धारण के लिए था और इसी में भारत की आजादी की तारीख 15 अगस्त 1947 तय की गई थी। इसी के तहत विभाजन के बाद भारत और पाकिस्तान की सीमाएं निर्धारित करने के लिए एक सीमा आयोग के गठन की बात कही गई थी और इसी के तहत पंजाब और बंगाल के विभाजन का प्रावधान किया गया था।

देश दुनिया के इतिहास में 18 जुलाई की तारीख में कई अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं दर्ज हुई थी-

1290 : इंग्लैंड के किंग एडवर्ड ने यहूदियों के निष्कासन का आदेश दिया।

1630 : स्पेन के सैनिकों ने इटली के मंतुआ प्रांत पर कब्जा किया।

1743 : साप्ताहिक अखबार न्यूयार्क में दुनिया में पहली बार आधे पृष्ठ का विज्ञापन प्रकाशित हुआ।

1781 : ब्रिटेन के विख्यात खगोल शास्त्री विलियम हरशल ने आकाश गंगा की वास्तविकता का पता लगाया।

1857 : बंबई विश्वविद्यालय की स्थापना हुई।

1872 : ब्रिटेन में चुनाव में गुप्त मतदान अधिनियम आया। इससे पहले मतदान खुले तौर पर किए जाते थे।

1918 : नोबेल पुरस्कार से सम्मानित दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला का जन्म हुआ।

1947 : ब्रिटिश संसद द्वारा पारित भारत स्वतंत्रता अधिनियम को ब्रिटेन के सम्राट द्वारा मंजूरी दी गई।

1951 : उरुग्वे ने संविधान स्वीकार किया।

1955 : परमाणु ऊर्जा से उत्पादित बिजली को व्यावसायिक रूप से पहली बार बेचा गया।

1963 : सीरिया में सैन्य तख्तापलट विफल हुआ।

1968 - कैलिफोर्निया के सांता क्लारा में इंटेल कॉरपोरेशन की स्थापना हुई।

1977 - वियतनाम संयुक्त राष्ट्र का सदस्य बना।

1980 - पूर्ण रूप से भारत में निर्मित उपग्रह रोहिणी-1 पृथ्वी की कक्षा में स्थापित हुआ।

1985 : सोवियत रूस ने भूमिगत परमाणु परीक्षण किया।

2010 : केरल के प्रोफेसर जोसफ पर आठ लोगों ने हमला किया और उन पर इस्लाम के अपमान का आरोप लगाते हुए उनके हाथ काट डाले।

2012 : किम जोंग उन को आधिकारिक तौर पर उत्तर कोरिया का सर्वोच्च नेता नियुक्त किया गया।

2012 : भारत के पहले सुपर स्टार राजेश खन्ना का निधन हुआ था।

(भाषा से इनपुट)

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top