लखनऊ और दिल्ली के बीच चली देश की पहली प्राइवेट ट्रेन 'तेजस'

लखनऊ और दिल्ली के बीच चली देश की पहली प्राइवेट ट्रेन

देश के पहले प्राइवेट ट्रेन तेजस का संचालन शुरु हो चुका है। 4 अक्टूबर की सुबह 6 बजे तेजस एक्सप्रेस (00501) लखनऊ से दिल्ली के लिए रवाना हुई। यह देश की पहली ऐसी ट्रेन है जिसका संचालन पूरी तरह से एक प्राइवेट कंपनी इंडियन रेलवे टूरिज्म ऐंड कैटरिंग कॉर्पोरेशन(आईआरसीटीसी) कर रही है।

पहली प्राइवेट ट्रेन के साथ यह देश की सबसे अधिक गति वाली ट्रेन भी बन गई है जो कि लखनऊ से दिल्ली के बीच 500 किलोमीटर के ऊपर के सफर को महज 6 घंटे 15 मिनट में पूरा करेगी। यह मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में 6 दिन चलेगी।

6 अक्टूबर से इस ट्रेन का नियमित संचालन शुरु हो जाएगा। लखनऊ से यह ट्रेन 6 बजकर 10 मिनट पर निकलेगी जो कि 12 बजकर 25 मिनट पर आपको नई दिल्ली जंक्शन रेलवे स्टेशन पहुंचा देगी। इसी तरह नई दिल्ली से यह ट्रेन शाम 4 बजकर 30 मिनट पर रवाना होगी जो कि रात 10 बजकर 45 मिनट पर लखनऊ पहुंचाएगी।

इस ट्रेन में दो तरह के चेयर कार हैं। सामान्य एसी चेयर कार का किराया 1125 रुपये और एग्जिक्युटिव चेयर कार का किराया 2,310 रुपये है। दिल्ली से लखनऊ की वापसी में यह किराया थोड़ा सा बढ़ जाता है। दिल्ली से लखनऊ एसी चेयर कार का भाड़ा 1,280 रुपये जबकि एग्जिक्युटिव चेयर कार का भाड़ा 2,450 रुपये है।

इस ट्रेन में लेट होने पर रिफंड की प्रक्रिया को जोड़ा गया है। अगर ट्रेन एक घंटे से अधिक लेट होता है तो यात्रियों को 100 रुपये रिफंड दिए जाएंगे। वहीं दो घंटे लेट होने पर 250 का रिफंड दिया जाएगा। यह रिफंड आईआरसीटीसी देगी। आईआरसीटीसी इसके साथ ही यात्रियों को 25 लाख रुपये की बीमा सुविधा भी देगी। यात्रा के दौरान लूटपाट या सामान चोरी होने की स्थिति के लिए भी एक लाख रुपए के मुआवजा का प्रावधान आईआरसीटीसी ने किया है।

यह भी पढ़ें- आज से दौड़ेगी एलईडी टीवी, वाई-फाई, सीसीटीवी से लैस तेजस एक्सप्रेस, रेलमंत्री दिखाएंगे हरी झंडी

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top