Top

कोरोना से जंग जीतने में आगे आए नन्हें हीरो, गुल्लक तोड़कर हुए इस मुहिम में शामिल

कोरोना से जंग जीतने में आगे आए नन्हें हीरो, गुल्लक तोड़कर हुए इस मुहिम में शामिल

दीपक सिंह, कम्युनिटी जर्नलिस्ट

बाराबंकी (उत्तर प्रदेश)। जब पूरी दुनिया कोरोना से लड़ रही है, हर कोई किसी न किसी तरीके इस मुहिम में शामिल है, ऐसे में इन छोटे-छोटे बच्चों की मदद लोगों को सीख दे सकती है।

उत्तर प्रदेश कर बाराबंकी जिले में कोरोना नाम की इस माहमारी से लड़ने के लिए बच्चे भी आगे आए हैं। और पिछले कई महीनों से इकट्ठा किए पैसे को कोरोना से लड़ने के लिए दे दिया है। बच्चों का कहना है हमारा गुल्लक ले लो लेकिन अंकल कोरोना भगा दो..

जनपद मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर हैदरगढ़ तहसील क्षेत्र के टिकरा मजरे लाही गांव के आधा दर्जन से ज्यादा बच्चों ने एसडीएम हैदरगढ़ योगेंद्र कुमार को फोन करके कहा कि कोरोना जंग लड़ने के लिए हम सभी बच्चे आर्थिक सहायता देने को तैयार हैं। आप हमारे गांव आकर मेरी गुल्लक में की गई बचत धनराशि को ले जाइए और कोरोना के रोकने में यह रकम लगा दीजिए।


एसडीएम ने फोन पर बच्चों को नेक कार्य के लिए साधुवाद देते हुए नायब तहसीलदार हैदरगढ़ अभिषेक कुमार यादव को गांव भेजा। गांव पहुंचने पर वैश्णवी ( 3 ) पलक अवस्थी (7) सबा (5) अंशिका ( 9) अक्षय अवस्थी (4) राम मिश्रा( 8) ओम पांडे (10) ओम अवस्थी (10) ने करीब दो हजार रुपए की नकदी से भरे अपने गुल्लक उन्हें सौंप दिया।

नायब तहसीलदार हैदरगढ़ अभिषेक यादव ने बच्चों की इस अनोखी पहल व जज्बे की बहुत प्रशंसा की है उन्होंने इस नेक कार्य कि किसने प्रेरणा मिली इसके विषय में नन्हे-मुन्ने बच्चों से पूछा तो बच्चों ने कहा कि कोरोना महामारी को लेकर तमाम लोग दान दे रहे हैं। हम बच्चों ने वैश्विक महामारी को रोकने के लिए निश्चय किया कि अपने-अपने गुल्लक में की गई बचत कोरोना से लड़ाई के लिए दान करेंगे।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.