महाराष्‍ट्र के नए मुख्‍यमंत्री के तौर पर उद्धव ठाकरे ने ली शपथ

महाराष्‍ट्र के नए मुख्‍यमंत्री के तौर पर उद्धव ठाकरे ने ली शपथफोटो- उद्धव ठाकरे के आध‍िकारिक ट्विटर हैंडल से

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने महाराष्‍ट्र के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। उद्धव ठाकरे शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार की ओर से मुख्‍यमंत्री बने हैं। यह शपथ ग्रहण समारोह मुंबई के ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में हुआ।

कौन-कौन बना मंत्री

- एक नाथ शिंदे, शिवसेना

- सुभाष देसाई, शिवसेना

- जयंत पाटिल, एनसीपी

- छगन भुजबल, एनसीपी

- बाला साहेब थोराट, कांग्रेस

- नितिन राउत, कांग्रेस

शिवाजी पार्क में होने वाले शपथ समारोह के लिए 70 हजार से अधिक कुर्सियां लगाई गईं, साथ ही 6000 स्क्वायर फीट का एक मंच तैयार किया गया जिसमें करीब 100 वीआईपी मेहमानों की बैठने की व्‍यवस्‍था है। इसके साथ ही मैदान में 20 से अधिक एलईडी स्क्रीन लगाई गई।

सोनिया ने उद्धव को दी बधाई

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को शपथ ग्रहण से पहले बधाई देते हुए कहा कि ऐसे वक्त में जब बीजेपी हर तरफ भय का माहौल फैला रही है तब शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी का साथ एक बड़ा कदम है। सोनिया ने कहा कि वह शपथ ग्रहण समारोह का हिस्सा नहीं बन सकेंगी लेकिन उन्होंने उद्धव को नई पारी के लिए शुभकामनाएं दी है।

उद्धव ठाकरे को लिखे बधाई संदेश में सोनिया गांधी ने कहा कि मेरी आदित्य से कल मुलाकात हुई आपके नए सफर पर मैं आपको बधाई देती हूं। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस एक ऐसे समय पर एक साथ हुए हैं जब देश को बीजेपी से खतरा है। राजनीतिक वातावरण बेहद जहरीला हो गया है, अर्थव्यवस्था चौपट है और किसानों को विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ रहा है।

शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस ने जारी किया कॉमन मिनिमम प्रोग्राम

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद की शपथ से ठीक पहले शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस का कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पेश किया गया है। कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में सरकार के कामकाज के खाके के बारे में जानकारी दी गई है। इसके तहत किसान, रोजगार, स्वास्थ्य, उद्योग, शहरी विकास, सामाजिक न्याय, महिलाओं की सुरक्षा जैसे मुद्दों पर काम करने की बात कही गई है।

कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में बताया गया है कि सरकार किसानों के लिए नई फसल बीमा योजना लाएगी। वहीं, असमय और भारी बारिश की वजह से हुए किसानों के नुकसान की भरपाई के लिए भी सरकार तुरंत राहत पैकेज देगी। सूख पीड़ित किसानों का कर्ज तुरंत माफ किया जाएगा। वहीं, बेरोजगारी को दूर करने के लिए सरकारी विभागों के सभी खाली पद भरे जाएंगे। राज्य के नागरिकों को एक रुपये में इलाज देने का वादा भी किया गया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top