रूस ने विश्व की पहली कोविड-19 वैक्सीन बनाने का किया दावा, राष्ट्रपति पुतिन की बेटी पर भी हुआ ट्रायल

पुतिन ने कहा- दुनिया की पहली कोविड वैक्सीन हो गई है रजिस्टर्ड, रूस करेगा बड़े पैमाने पर उत्पादन, बाकी देशों को भी करेगा आपूर्ति

रूस ने विश्व की पहली कोविड-19 वैक्सीन बनाने का किया दावा, राष्ट्रपति पुतिन की बेटी पर भी हुआ ट्रायल

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दावा किया कि रूस ने कोविड-19 की पहली वैक्सीन तैयार कर ली है। इसे रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से मंजूरी भी मिल गई है। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी को भी कोरोना वैक्सीन लगाई गई है।

रूस के मंत्रियों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक को संबोधित करते हुए पुतिन ने कहा कि हमने दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन रजिस्टर्ड कराई है। इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरी एक बेटी को भी इस वैक्सीन की डोज दी गई है।

रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने बताया कि रूसी माइक्रोबायोलॉजी रिसर्च सेंटर गेमालेया में कोविड​​-19 वैक्सीन को पंजीकृत किया गया है। उन्होंने कहा कि टीका सुरक्षित और प्रभावी साबित हुआ। हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से इसे अभी मान्यता मिलना बाकी है।

काफ़ी समय से रूस प्रयासरत था कि वह दुनिया की पहली कोविड-19 वैक्सीन जल्द बना कर इसी महीने उसे लॉन्च करे। रूस इसे बड़े पैमाने पर बनाएगा और हर महीने उत्पादन बढ़ाकर इसकी आपूर्ति करेगा जो काफी महत्वपूर्व है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने पिछले हफ्ते ही रूस से आग्रह किया था कि वह सभी दिशानिर्देशों का पालन करने के साथ ही एक सुरक्षित वैक्सीन विकसित करे जो सभी आवश्यक ट्रायल से गुजरी हो।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.