उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामला: बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर हत्या का मुकदमा दर्ज

उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामला: बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर हत्या का मुकदमा दर्ज

रायबरेली में हुए उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के सड़क दुर्घटना मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 नामजद और 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ सोमवार को हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया। रायबरेली के गुरुबक्शगंज थाने में महेश सिंह की तहरीर पर सेंगर और उनके भाई मनोज सेंगर के साथ-साथ विनोद मिश्र, हरिपाल सिंह, नवीन सिंह, कोमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेन्द्र और रिंकू के खिलाफ नामजद और 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास और साजिश रचने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया।

मुकदमे के वादी पीड़िता के चाचा महेश सिंह ने तहरीर में आरोप लगाया कि जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह सेंगर अपने साथियों के नंबर पर फोन मिला कर उसके घर पर जबरन बात किया करते थे और धमकी देते थे कि अगर जिंदा रहना है तो सारे मुकदमों में बयान बदल दो। आरोप है कि पुलिस से इस बारे में कई बार शिकायत की गई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

धमकी देने वालों में कुलदीप सेंगर, उनका भाई मनोज सेंगर और आठ अन्य नामजद आरोपी और 15-20 दूसरे लोग कहा करते थे कि विधायक से सुलह कर लो नहीं तो तुम सभी लोगों को किसी ना किसी तरह से घूमते-फिरते मरवा दिया जाएगा। तहरीर में महेश ने आरोप लगाया है कि उसे एक साजिश के तहत उन्नाव से रायबरेली जेल भेजा गया। इस बारे में उसने अधिकारियों से गुजारिश भी की थी कि उसे उन्नाव जेल में ही रखा जाए नहीं तो उसके परिवार के लोगों की उससे मुलाकात के लिए आते वक्त रास्ते में कहीं ना कहीं हत्या करवा दी जाएगी।

तहरीर में कहा गया कि रायबरेली में हुई घटना को देख कर यह यकीन है कि टक्कर मारने वाले ट्रक के मालिक का संबंध विधायक सेंगर और उसके गुर्गों से है तथा हत्या करने की नीयत से ही घटना को अंजाम दिया गया। इन हत्याओं में सभी अभियुक्तों का हाथ है।

गौरतलब है कि बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की, उसकी चाची और मौसी अपने वकील के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने चाचा महेश सिंह से रविवार को मुलाकात करने जा रही थी। रास्ते में रायबरेली के गुरुबख्श गंज क्षेत्र में उनकी कार और एक ट्रक के बीच संदिग्ध परस्थितियों में टक्कर हो गई थी।

इस हादसे में लड़की की मौसी ने स्थानीय अस्पताल में दम तोड़ दिया था। वहीं हादसे में घायल चाची को लखनऊ स्थित ट्रामा सेंटर में चिकत्सिकों ने मृत घोषित कर दिया था। इस घटना में घायल वकील की हालत बेहद नाजुक है और वह ट्रामा सेंटर में वेंटिलेटर पर हैं। वहीं पीड़िता भी गम्भीर रूप से घायल हुई है।

पीड़िता ने साल 2017 में उन्नाव से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाया था। इस मामले में सेंगर उन्नाव जेल में बंद हैं।

(भाषा से इनपुट)

यह भी पढ़ें- उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामला: प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा- इस जगह पहले भी होते रहे हैं एक्सीडेंट


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top