Top

सोनभद्र नरसंहार पीड़ितों को सीएम योगी ने दिया जमीन का पट्टा, कहा- जमीन हड़पने वाले जाएंगे जेल

सोनभद्र नरसंहार पीड़ितों को सीएम योगी ने दिया जमीन का पट्टा, कहा- जमीन हड़पने वाले जाएंगे जेल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र नरसंहार पीड़ितों को जमीन का पट्टा दिया है। सोनभद्र के उम्भा गांव का दौरा करने के बाद उन्होंने नरसंहार पीड़ित परिवारों को 7.5-7.5 बीघे जमीन का पट्टा दिया। इसके अलावा उन्होंने उम्भा और पड़ोसी गांव सफी के 247 भूमिहीन परिवारों को पट्टा दिया। इस तरह कुल 281 लाभार्थियों को 852 बीघे जमीन का पट्टा दिया गया।

मुख्यमंत्री ने 11 मृतकों के परिवारों को सहायता राशि प्रदान की। प्रत्येक परिवार को 18.50 लाख रूपये की सहायता राशि दी गई। इसके अलावा मृतक परिवार के महिला सदस्य के लिए निराश्रित महिला पेंशन योजना भी स्वीकृत की गई। वहीं प्रत्येक घायल को मुख्यमंत्री ने 6 लाख रूपये की सहायता राशि प्रदान की।सोनभद्र नरसंहार में आरोपियों पर कड़ी कार्यवाही का आश्वासन देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जमीन हड़पने और नरसंहार करने वाले जेल जाएंगे।

कांग्रेस और पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, "पिछले शासनकाल में गरीबों को उनके अधिकारों से वंचित रखा गया, उनसे उनके जमीन छीन लिए गए। सभी पार्टियों ने सोनभद्र और मिर्जापुर में एक लाख बीघा से अधिक भूमि पर अवैध कब्जा किया और कोई भी विकास कार्य नहीं किया। आज हमारी सरकार आपको विकास के रास्ते पर ला रही है।"

सीएम योगी ने इसके साथ ही उम्भा गांव में कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया, जिसमें पूरे गांव का विद्युतीकरण, सौर ऊर्जा पर आधारित पेयजल, पात्र परिवारों को राशन कार्ड वितरण, पात्रों को आयुष्मान योजना के तहत कार्ड, वृद्धों को वृद्धावस्था पेंशन और दिव्यांगों को उपकरण और दिव्यांग पेंशन शामिल है। इसके अलावा गांव के 292 परिवारों को 'मुख्यमंत्री आवास योजना' के तहत आवास भी दिया गया। सोनभद्र जिले को भी बड़ा सौगात देते हुए उन्होंने 340 करोड़ लागत की 35 योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

आपको बता दें कि 17 जुलाई, 2019 को सोनभद्र के उम्भा गांव में एक भीषण नरसंहार हुआ था। गांव की एक जमीन पर कब्जा करने पहुंचे प्रधान पक्ष के 200 लोगों का ग्रामीणों ने विरोध किया था। इसके बाद दोनों पक्षों में बहस और फिर फायरिंग हुई थी। इस घटना में 10 लोग मारे गए थे, वहीं 28 लोग घायल भी हुए थे। तब से यह दूसरा मौका है जब सीएम योगी उम्भा गांव पहुंचे हैं।

यह भी पढ़ें- सोनभद्र गोलीकांड: राजस्व विभाग में विवादित जमीन का नहीं है रिकॉर्ड

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.