उन्नाव: मरीजों की दाल में निकले कीड़े, प्रसूता ने काटा हंगामा

उन्नाव: मरीजों की दाल में निकले कीड़े, प्रसूता ने काटा हंगामादाल में कीड़े निकलने पर महिला मरीज ने हंगामा शुरू कर दिया।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। जिला अस्पताल में मरीजों की दी जाने वाली दाल में कीड़े निकलने पर महिला मरीज ने हंगामा शुरू कर दिया। खाने के लिए कीड़ेयुक्त दाल मिलने पर मामले की शिकायत लेकर महिला मरीज वार्ड में मौजूद स्टाफ नर्स तक पहुंच गई। जहां उन्होंने मरीज से दाल लेकर उसे फेंक दिया।

इस बीच दाल में कीड़ा मिलने की जानकारी होते ही अन्य मरीज भी सहम गए। जिससे रविवार सुबह जब ठेकेदार भोजन बंटवाने पहुंचा तो मरीजों ने लेने से इंकार कर दिया। मरीजों का कहना था कि जब तक भोजन की गुणवत्ता को लेकर जिम्मेदार जांच नहीं कराते तब तक वह भोजन नहीं लेंगे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला अस्पताल में मरीजों को दी जाने वाली डाइट को लेकर लगातार शिकायतें सीएमएस से लेकर सीएमओ तक पहुंचती रहती हैं। मरीजों की शिकायत रहती हैं कि भोजन की गुणवत्ता पर ध्यान नहीं रखा जाता। भोजन बांटने वाला ठेकेदार पानी युक्त दाल बांटने के साथ ही सूखी रोटी बंटवाता है। इसके साथ ही किचेन में साफ सफाई नहीं करवाता जिससे गंदगी के बीच खाना पकाया जाता है।

रविवार को ठेकेदार द्वारा जब महिला वार्ड में खाना बंटवाया जा रहा था तभी रेशमा गौतम पत्नी सूरज निवासी मझिगवां थाना बांगरमऊ ने दाल में कीड़े निकलने की शिकायत करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। रेशमा दाल से भरे कटोरे को लेकर स्टाफ नर्स के पास पहुंची और उन्हें दाल में कीड़े दिखाए। इस बीच एक अन्य महिला मरीज भी स्टाफ नर्स के पास पहुंच गई और उसने दाल में कीड़े मिलने की बात कही। दाल में कीड़े निकलने की बात पर वार्ड में हंगामा शुरू हो गया। कई मरीजों ने बिना खाना खाए ही दाल फेंक दी। वहीं स्टाफ नर्स ने उस दाल को फिकवा दिया जिसमें कीड़े निकले थे।

देर शाम का मामला होने से बात अधिकारियों तक नहीं पहुंच पाई। इस बीच सोमवार सुबह जब ठेकेदार दोबारा वार्ड में खाना बंटवाने पहुंचा तो मरीजों ने खाना लेने से ही इंकार कर दिया और दाल में कीड़े निकलने की बात दोहरा दी। मरीजों की शिकायत पर खाना बांटने के लिए पहुंचे लोग मौके से खिसक लिए। इससे सोमवार सुबह महिला वार्ड में कई मरीजों को खाना नहीं मिल सका। तभी कुछ मरीजों के तीमारदारों ने सीएमओ को मामले से अवगत कराया। देर शाम तक अधिकारियों द्वारा इस मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई थी।

मरीजों की दाल में कीड़े निकलने की शिकायत मिली है। उन्होंने बताया कि जिस ठेकेदार द्वारा खाना बंटवाया जा रहा है उसके खिलाफ जांच कराई जाएगी। उन्होने यह भी कहा कि अगर सीएमएस उन्हें लिखकर पत्र देती हैं तो वह ठेकेदार के खिलाफ फौरन कार्रवाई कर देंगे।
चंद्रभूषण नाथ त्रिपाठी, सीएमओ

मामले की जांच कराई जा रही है

महिला अस्पताल की सीएमएस डॉ सरोज श्रीवास्तव ने कहा कि उन तक अभी कोई शिकायत नहीं पहुंची है। हालांकि सोमवार सुबह यह जरूरत पता चला है कि कुछ मरीजों ने खाना नहीं लिया। वह वार्ड में मौजूद रही नर्स से मामला पता कर रही हैं। अगर ठेकेदार की लापरवाही मिलेगी तो लाईसेंस निरस्त कराया जाएगा।

तीन दिन से नहीं मिला खाना

जिला महिला अस्पताल में इलाज करा रही सुमन पत्नी अजय निवासी फत्तेपुर कानपुर देहात ने बताया कि उन्हें अस्पताल में तीन दिन से खाना नहीं मिला। रविवार शाम जब खाना बांटा गया तब कीड़े निकलने की बात सुनाई पड़ी। जिस पर उन्होंने खाना नहीं खाया था। सुमन ने बताया कि पहले दिन ठेकेदार द्वारा बर्तन नहीं दिए गए थे जिससे उन्हे ंखाना नहीं मिल सका था।

बारह बजे बंद हो गया किचेन

मरीजों को दी जाने वाली दाल में कीड़े मिलने पर सोमवार सुबह मरीजों के कुछ तीमारदारों ने किचेन का हाल जानने की कोशिश की। हालांकि दोपहर बारह बजे ही उन्हें किचेन में ताला बंद मिला। तीमारदारों का कहना था कि जिस जगह पर किचेन स्थापित किया गया है उसके बगल में ही खुली नाली बनी है। साथ ही गंदगी भी फैली रहती है। ऐसे में अगर दाल में कीड़े नहीं निकलेंगे तो और क्या निकलेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top