योगाभ्यास हार्ट अटैक से बचने में सहायक

योगाभ्यास हार्ट अटैक से बचने में सहायकविश्व हृदय दिवस

नई दिल्ली (आईएएनएस)। बदलती जीवनशैली और खान-पान की गलत आदतों के कारण हार्ट अटैक जैसी समस्याएं आम हो गई हैं। आज के समय में लोगों की अनियमित दिनचर्या की वजह से यह समस्या युवाओं में भी तेजी से बढ़ने लगी है।

योगऔषधि संस्थान का कहना है कि नियमित योगाभ्यास करने से हार्ट अटैक जैसी गंभीर समस्याओं से बचा जा सकता है। आज के समय में लोगों के पास न खाने का वक्त है न समय से सोने का। इस आराम वाली जीवनशैली में न हम व्यायाम करते हैं न ही टहलते हैं। पहले ऐसी समस्याएं केवल बुढ़ापे में देखने को मिलती थी, पर अब युवा भी हार्ट अटैक जैसी समस्याओं का शिकार हो रहे हैं।

ये भी पढ़ें : जानकारी के अभाव में हो सकता है कैंसर, सही समय पर ध्यान दें तो बच सकती है जान

विश्व हृदय दिवस पर योगऔषधि संस्थान के निदेशक दीपक डडवाल ने बताया, "यदि हम योगाभ्यास को जीवन का अंग बना लें, तो हार्ट अटैक से बचा जा सकता है। योगासन शरीर में प्राण की गति को बढ़ाता है। सूर्यनमस्कार को 12 बार करें, यह एक कार्डियोवैस्कुलर अभ्यास है, इसके अलावा कुछ और आसन हृदय के लिए लाभदायक हैं।" उन्होंने कहा कि भुजंग, गोमुख, नाव, सेतुबंध, वृक्ष, त्रिकोण, उष्ट्र इनके नियमित अभ्यास से हार्ट अटैक से बचा जा सकता है।

दीपक ने बताया, "हार्ट एक ऐसा अंग है जो मनुष्य की जिंदगी में पैदा होने से मरने तक काम करता रहता है। दिल को स्वस्थ रखने के लिए नियमित व्यायाम, अच्छा खाना और धूम्रपान से परहेज ये तीन बातें बेहद जरूरी हैं। इन सबके बावजूद हम कई और बातें भूल जाते हैं जैसे कि तनाव न लें, दिमाग शांत रखें।"

ये भी पढ़ें : जानिए व्यस्त जिंदगी में कैसे रहें स्वस्थ

Share it
Share it
Share it
Top