इस फल के सेवन से होंगे अनेक फायदे

इस फल के सेवन से होंगे अनेक फायदेअमरुद का पेड़।

लखनऊ। अमरूद की साल में दो फसलें, पहली बरसात में और दूसरी सर्दियों के मौसम में तैयार की जाती हैं। ज़्यादातर किसान शीतकालीन फसल पर निर्भर हैं। इसका कारण यह है कि बरसात में होने वाली फसल की गुणवत्ता कम पाई जाती है। इसके साथ ही फसल में कीटों का भी प्रकोप होता है इसलिए व्यवसाय को देखते हुए किसान शीतकालीन फसल को अपनाकर अच्छी पैदावार से मुनाफा कमा रहे हैं।

सेहत के लिए फायदेमंद

अमरूद आपकी हेल्‍थ के लिए बेहद गुणकारी है ।यही वजह है कि इसे सुपर फूड की कैटगरी में रखा गया है। इसमें विटामिन सी, लाइकोपीन, मैग्‍नीज, पोटैश‍ियम, विटामिन, मिनरल और फाइबर पाए जाते हैं ।अपनी इन खूबियों के चलते आयुर्वेद में अमरूद को खास स्‍थान दिया गया है।यही नहीं इसकी खुश्‍ाबू और स्‍वाद दोनों लाजवाब हैं। अगर अब तक आप अमरूद को महज एक फल समझकर नजरअंदाज़ करते आए हैं, तो अब इन खूबियों के बारे में जान लें और इस वंडर फूड को अपनी डाइट का हिस्‍सा जरूर बनाएं।

ये भी पढ़ें-डेढ़ सौ रुपए का एक अमरूद बेचता है ये किसान

डायबिटीज की रोकथाम

अमरूद डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है। यह शुगर लेवल को कंट्रोल करता है और लो ग्लिसमिक इंडेक्‍स शुगर लेवल को अचानक बढ़ने से रोकता है। डायबिटीज के रोगियों को रोज अमरूद खाने की सलाह दी जाती है। यही नहीं अमरूद की पत्तियों की चाय पीने से से डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है।

वजन कम करने में मददगार

अमरूद में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं। अमरूद में मौजूद फाइबर कॉलेस्‍ट्रोल लेवल को कम करने में बहुत मददगार हैं। यही नहीं अंगूर, संतरे और सेब की तुलना में इसमें शुगर की मात्रा बहुत कम होती है।यही वजह है कि आप बेहिचक इसे खा सकते हैं।

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद

अमरूद में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है, जो शरीर की इम्‍यूनिटी को बढ़ाने में काफी फायदेमंद है ।अमरूद पर नमक और काली मिर्च लगाकर खाने से कफ दूर होता है। वहीं, पके अमरूद के बीजों को खाने के बाद पानी पीने से जुकाम से राहत मिलती है।

ये भी पढ़ें-किसान अमरुद की शीतकालीन फसल से कमाएं मुनाफा

दांतों की परेशानियों से छुटकारा

अगर आपके दांत में दर्द है तो धीरे-धीरे अमरूद की पत्‍तियां चबाएं ।अमरूद के पत्तों को हल्के गर्म पानी में उबालकर कुल्ला करने से मसूढ़ों की सूजन और दर्द से छुटकारा मिलता है।दांतों में फैले प्‍लाक से निजात पाने के लिए अमरूद की पत्तियां चबानी चाहिए।मुंह की बदबू दूर करने के लिए अमरूद की पत्तियों को पीसकर उससे पेस्‍ट करना चाहिए।

पेट दर्द, कब्‍ज और मुंह के छालों से मुक्ति

अमरूद कब्‍ज और पेट दर्द से जुड़ी कई समस्‍याओं का रामबाण इलाज है।अगर आपके पेट दर्द में है तो अमरूद में नमक मिलाकर खाएं ।अमरूद की पत्तियां डयर‍िया फैलने वाले बैक्‍टीरिया को रोकती हैं ।दस्‍त लगने पर अमरूद की पत्तियों की चाय पीनी चाहिए।मुंह में छाले होने पर अमरूद की कोमल पत्तियों को चबाने से बहुत जल्‍द आराम मिलेगा।अगर आप अमरूद को अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो कब्‍ज की श‍िकायत ही नहीं रहेगी।

दिमाग को दे पोषण

अमरूद में मौजूद विटामिन सी दिमाग की कार्यप्रणाली को सुधारने में मदद करता है। इसमें मौजूद विटामिन बी 3 और बी 6 दिमाग के ब्‍लड सर्कुलेशन को ठीक रखते हैं।

आंखों व त्‍वचा के लिए गुणकारी

अमरूद में विटामिन A पाया जाता है, जो आंखों को सेहतमंद बनाए रखता है ।अमरूद खाने से रतौंधी और मोतियाबिंद का खतरा कम हो जाता है। इसके अलावा अमरूद त्‍वचा की सेहत बरकारार रखने के काम भी आता है।अमरूद खाने से त्‍वचार की झुर्रियों, रूखेपन और टैनिंग से छुटकारा मिलता है।यही नहीं अमरूद खाने से त्‍वचा की रंगत निखरती है और मुंहासे भी कोसों दूर रहते हैं।

ये भी पढ़ें-अमरूद की फसल का ऐसे करें फल-मक्खी कीट से बचाव

दूर होगा नशे का असर

शराब या भांग का नशा उतारने के लिए अमरूद की पत्तियों का रस पीना चाहिए।अमरूद की पत्तियां चबाने से भी लाभ मिलेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top