कमरदर्द, पीठदर्द की वजह उठने-बैठने का गलत तरीका

कमरदर्द, पीठदर्द की वजह उठने-बैठने का गलत तरीकाशरीर को सही स्थिति में रखें तो बच सकते हैं इन परेशानियों से।

स्वयं डेस्क/ अश्वनी द्विवेदी (कम्युनिटी जर्नलिस्ट) 32 वर्ष

लखनऊ। कई लोग बैठते और खड़े होते समय अपनी बॉडी को झुका लेते हैं यानि की गलत बॉडी पोश्चर का इस्तेमाल करते है, जिससे स्लिप डिस्क, कमरदर्द, पीठदर्द, खराब ब्लड सर्कुलेशन, सीने में दबाव जैसी परेशानियां हो सकती हैं।

अगर आप शरीर को सही स्थिति में रखे तो इन सब परेशानियों से बचे रह सकते है। आज हम आपको कुछ बॉडी पोश्चर के बारे में बताएंगे, जिनमें सावधानी रखकर आप स्वास्थ्य संबंधी कई तरह की परेशानियों से बच सकते हैं। इसके बारे में बता रहे हैं लखनऊ के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ अमित कुशवाहा-

सही बॉडी पोश्चर क्यों है जरूरी

शरीर का सही पोश्चर दिमाग में ऑक्सीजन का प्रवाह करता है, जिससे मस्तिष्क सही ढ़ंग से काम करने लगता है। हमारी सोचने-समझने की शक्ति बढ़ने लगती है। जोड़ों पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता और तनाव से मुक्ति मिलती है। इसी के साथ अगर आप अपने शरीर को सही तरीके से रखते है तो आप ज्यादा आकर्षक और स्मार्ट लगते है, जो हमारा आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है।

खड़े होने का तरीका

खड़े होते समय आगे की तरफ न झुकें। अपनी गर्दन और पीठ सीधी रखें। खड़े होते समय अपने दोनों पैरों पर समान भार डालें, ताकि आपके पैर के मसल्स पर ज्यादा प्रभाव न पड़े।

वज़न उठाने की स्थिति

किसी भी तरह का वजन उठाते हुए सिर्फ अपनी कमर को ही न झुकाएं ब्लकि अपने घुटनों को भी मोड़ें। ज्यादा भारी सामान को सीधे जमीन से उठाने के बजाए पहले किसी कुर्सी या मेज पर रखें। ऐसा करने से आपके जोड़ों पर ज्यादा दबाव नहीं पड़ेगा।

बैठने की स्थिति

लोग बैठते समय ज्यादा गलती करते हैं। कंप्यूटर के सामने बैठकर काम करते है तो अपने पैरों को लटकाकर न बैठें, पैरों को जमीन पर लगाएं। की-बोर्ड को अपने बिल्कुल सामने रखें और आगे को झुककर न बैठें। अगर आप कंप्यूटर पर गलत स्थिति में बैठते है तो सिरदर्द, गर्दन और कंधों में दर्द, कोहनी, हाथ की उंगलियों और कलाई में दर्द, पीठदर्द आदि परेशानियों से गुजर सकते हैं।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Tags:    Sehat 
Share it
Top