किस उम्र की महिला को लेनी चाहिए कितनी नींद, जानें यहां

Anusha MishraAnusha Mishra   27 May 2017 10:06 AM GMT

किस उम्र की महिला को लेनी चाहिए कितनी नींद, जानें यहांप्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ। सुबह सबसे पहले उठना और रात में सबके सोने के बाद सोना, हर घर में महिलाओं की यही कहानी होती है। मां का काम सबसे पहले शुरू होता है और सबके बाद में खत्म होता है, तो कई घरों में बहनों को भी मां का हाथ बंटाने के लिए जल्दी उठना पड़ता है।

महिला अगर घर के बाहर भी काम करती है तब तो उसके सोने का समय और भी कम हो जाता है। पहले घर के काम निपटाओ फिर ऑफिस में दिन भर काम करो। स्लीप फाउंडेशन के मुताबिक, ज़्यादातर महिलाओं को उनकी उम्र की ज़रूरत के हिसाब से नींद मिल ही नहीं पाती है, लेकिन अगर महिलाएं खुद को चुस्त दुरुस्त देखना चाहती हैं और लंबी उम्र तक स्वस्थ रहना चाहती हैं तो उन्हें अपनी नींद तय घंटों के अनुसार ही लेनी चाहिए।

5 से 16 साल तक की लड़कियां

इस उम्र की लड़कियों में शारीरिक विकास सबसे तेज होता है, इसलिए उन्हें औसतन 8 से 10 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए। अगर इतना नहीं हो सकता तो कम से कम 7 घंटे तो सोना ही चाहिए। हालांकि यह भी ज़रूरी है कि समय से ज़्यादा न सोया जाए क्योंकि यह भी खतरनाक होता है। अधिकतम 11 घंटे से ज्यादा सोना भी सेहत बिगाड़ सकता है। इस उम्र में फोन और इंटरनेट पर ज्यादा समय बिताने से शारीरिक विकास पर असर पड़ता है। इसलिए फोन का इस्तेमाल सिर्फ एक घंटा काफी है। इस उम्र में सुबह सोना और शाम के समय पढ़ना चाहिए।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

18 से 25 साल की युवतियां

इस उम्र की युवतियों के लिए 7 से 9 घंटे की नींद बेहद जरूरी है। इस उम्र की जो युवतियां कामकाजी होती हैं, उन्हें तो इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए। 18 से 25 साल की युवतियां चाय/कॉफी भी खूब पीती हैं लेकिन सोने से पहले कॉफी न पिएं, ये आपकी नींद उड़ा सकती है।

26 से 60 वर्ष की महिलाएं

इस उम्र की महिलाओं के लिए 7 से 9 घंटे की नींद पर्याप्त है। कम से कम सात घंटे तो सोना ही चाहिए। इससे कम सोना सेहत पर बुरा असर डाल सकता है। इस उम्र की जो महिलाएं मां बन चुकी हैं उनके लिए सोने से पहले कोई कहानी की किताब पढ़ना भी फायदेमंद साबित हो सकता है। कई बार कामकाजी महिलाएं अकेली रहती हैं तो डर की वजह से लाइट ऑन करके सोती हैं, जो नींद खराब होने का एक कारण बन जाती है। सोने से कुछ देर पहले मोबाइल साइलेंट करके साइड में रख दें। ध्यान रखें कि कम नींद ली तो वजन बढ़ने का खतरा और सामान्य सर्दी-जुकाम की आशंका बढ़ जाती है और वजन बढ़ाना तो कोई भी महिला नहीं चाहेगी।

60 वर्ष के ऊपर की महिलाएं

इस उम्र की महिलाओं को 7 से 8 घंटे की नींद वह भी सिर्फ रात में पर्याप्त है। रात में नींद नहीं आती है तो डॉक्टरी सलाह लेना जरूरी है। दिन में भी थोड़ा आराम किया जा सकता है। टहलना फायदेमंद और आहार में भी हल्की चीजों को शामिल करना चाहिए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top