प्रेम व खुशहाली के गवाह होते हैं दांत 

प्रेम व खुशहाली के गवाह होते हैं दांत प्रतीकात्मक फोटो।

सिडनी (आईएएनएस)| अगर आप अपने बिस्तर पर खुश नहीं हैं तो अपने दंतों की सेहत की जांच करें। दांत प्रेम व खुशहाली के गवाह होते हैं। ऐसा एक अध्ययन में बताया गया है। अध्ययन में कहा गया है कि जो जीवन में भरोसेमंद, सुरक्षित और प्यार से भरपूर रिश्ते में होते हैं, उनके मुंह का स्वास्थ्य बुरे रिश्तों में रहनेवालों की तुलना में बेहतर होता है।

जो लोग प्यार में पड़े होते हैं, वे खुद पर अधिक ध्यान देते हैं, जिनमें दांतों का स्वास्थ्य भी शामिल है। एबीसी डॉट नेट डॉट एयू ने ऑस्ट्रेलिया के यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड के ग्रेस ब्रैंज्र्डपोर्न के हवाले से बताया, "हम आश्चर्यचकित हैं कि किस प्रकार से रोमांस से भरपूर रिश्ता अपनी भूमिका निभाता है।"

शोधकर्ताओं का कहना है कि जो लोग भावनात्मक रूप से अपने जीवनसाथी से दूर होते हैं, वे अपने दांतों की नियमित देखभाल और दंत चिकित्सकों से मिलने में कोताही बरतते हैं।

हमारे शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि जो भावनात्मक अंतरंगता से बचने की कोशिश करते हैं या फिर चितिंत रहते हैं कि उनका साथी उन्हें जरूरत के समय छोड़ देगा/देगी। उनका मौखिक स्वास्थ्य अधिक नकारात्मक होने की संभावना होती है। वहीं, दूसरी तरफ जो प्यार में पड़े होते हैं, वे दूसरों पर भरोसा करते हैं और उनके दांतों का स्वास्थ्य भी बेहतर होता है, क्योंकि वे इसकी देखभाल पर ज्यादा ध्यान देते हैं।
ग्रेस ब्रैंज्र्डपोर्न यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड ऑस्ट्रेलिया

यह शोध जर्नल ऑफ क्वालिटी ऑफ लाइफ रिसर्च में प्रकाशित किया गया है।

Share it
Top