भारत 2021 में पहली बार पुरुष विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप की करेगा मेजबानी

भारत 2021 में पहली बार पुरुष विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप की करेगा मेजबानीविश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप

नई दिल्ली (भाषा)। भारत अगले वर्ष महिला विश्व चैंपियनिशप के अलावा 2021 में पहली बार पुरुष विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप की मेजबानी करेगा जो एक समय प्रशासनिक परेशानियों से जूझ रहे खेल के लिये बड़ी उपलब्धि है। अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) ने मास्को में अपनी कार्यकारी समिति की दो दिवसीय बैठक के बाद यह घोषणा की।

एआईबीए अध्यक्ष डॉ. चिंग कुआ वु ने बयान में कहा, ''हमें यह पुष्टि करते हुए खुशी हो रही है कि एआईबीए पुरुष विश्व चैंपियनशिप 2019 सोच्ची में होगी और हम बड़ी प्रसन्नता के साथ यह घोषणा भी करते हैं कि नई दिल्ली 2021 की चैंपियनशिप की मेजबानी करेगा क्योंकि भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने खेल के विकास के लिये अपनी प्रतिबद्धता बरकरार रखी है।''

ये भी पढ़ें : इन देशों में 300 से 400 रुपए किलो तक बिक रहा है टमाटर

उन्होंने कहा, ''तुर्की मुक्केबाजी महासंघ की प्रस्तुति के बाद मैं जानता हूं कि ट्राबजोन 2019 में विश्व के सबसे बडे महिला मुक्केबाजी टूर्नामेंट की मेजबानी के लिये तैयार रहेगा।'' भारत ने इससे पहले कभी पुरुष विश्व चैंपियनशिप की मेजबानी नहीं की थी लेकिन उसने 2006 में महिला चैंपियनशिप की मेजबानी की थी। भारत ने अब पुरुषों की जिस प्रमुख मुक्केबाजी प्रतियोगिता की मेजबानी की है उनमें 1990 में मुंबई में खेला गया विश्व कप है और 2010 में नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप है।

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा, ''पहली बार देश को दो प्रमुख चैंपियनशिप की मेजबानी सौंपी गयी है। हमने जो प्रस्तुति दी उसे एआईबीए अध्यक्ष ने सर्वश्रेष्ठ करार दिया।'' यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि भारतीय महासंघ प्रशासनिक अव्यवस्था के कारण 2012 से 2016 के बीच निलंबन झेल रहा था। खेल मंत्री विजय गोयल ने ट्वीट किया, ''भारतीय मुक्केबाजी प्रशसंकों और खिलाड़ियों के लिये शानदार खबर।''

ये भी पढ़ें : हाय रे महंगाई: टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात बंदूकधारी गार्ड

एआईबीए कार्यकारी समिति ने 2019 महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप की मेजबानी तुर्की के ट्राबजोन को सौंपी है। एआईबीए 2018 कांग्रेस रुस के शहर मास्को में होगी। इस घोषणा से भारतीय मुक्केबाजी समुदाय उत्साहित है। इस साल होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिये चुनी गयी टीम के साथ अभ्यास दौरे पर फ्रांस गये भारतीय पुरुष टीम के कोच सैंटियागो नीवा ने कहा कि दो प्रतियोगिताओं की मेजबानी हासिल करना ऐतिहासिक है।

उन्होंने फोन पर कहा, ''यह भारतीय मुक्केबाजी के लिये शानदार और निश्चित तौर पर ऐतिहासिक खबर है। इससे महासंघ की शक्ति और संकल्प का पता चलता है। इन चैंपियनशिप की मेजबानी हासिल करना भारतीय मुक्केबाजी के भविष्य लिये बेहद महत्वपूर्ण साबित होगा। इससे मुक्केबाज अधिक कड़ी मेहनत करेंगे।'' महिला मुक्केबाजी के मुख्य कोच गुरबख्श सिंह संधू ने भी इस पर खुशी जतायी।

संधू ने कहा, ''मैंने आज सुबह लड़कियों को यह जानकारी दी और वे तब से बेहद उत्साहित हैं। भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने वास्तव में भारत के लिये बडी प्रतियोगिताएं हासिल की हैं और अब मुक्केबाजों को अपेक्षाओं पर खरा उतरना होगा।''

ये भी पढ़ें : .. जब 110 मीटर लंबा छक्का लगाने पर हरमनप्रीत कौर के बैट की हुई थी जांच

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top