Top

IPL: गेंदबाजों ने पंजाब को दिलाई जरूरी जीत

IPL: गेंदबाजों ने पंजाब को दिलाई जरूरी जीतगेंदबाजों ने पंजाब को दिलाई जरूरी जीत

मोहाली (आईएएनएस)। किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाजों ने अंतिम ओवरों में शानदार खेल दिखाते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 49वें मैच में मंगलवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को 14 रनों से मात देकर प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है।

पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए आईएस बिंद्रा स्टेडियम में कोलकाता के सामने 168 रनों का लक्ष्य रखा था। पंजाब के गेंदबाजों ने अपनी अनुशासित गेंदबाजी के दम पर कोलकाता के मजबूत बल्लेबाजी आक्रमण को लक्ष्य तक नहीं पहुंचने दिया। कोलकाता की टीम पूरे ओवर खेलने के बाद छह विकेट खोकर 153 रन ही बना सकी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

52 गेंदों में आठ चौके और तीन छक्कों की मदद से 84 रनों का पारी खेलने वाले क्रिस लिन जब तक मैदान पर थे कोलकाता की जीत तय लग रही थी लेकिन, रन लेने की जल्दबाजी में लिन 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर रन आउट हो गए और पंजाब ने इसके बाद मैच पर अपना कब्जा जमाया। यह पंजाब की कोलकाता के खिलाफ 2014 के बाद पहली जीत है। इससे पहले उसे कोलकाता ने लगातार आठ बार हराया था। पंजाब को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए बाकी के बचे दो मैच जीतने होंगे। साथ ही उसे सनराइजर्स हैदराबाद के इकलौते मैच में हार का इंतजार होगा।

बहरहाल, इस मैच में कोलकाता की तरफ से सिर्फ लिन के बल्ले से रन निकले बाकी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सके। चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता के लिए सुनील नरेन और लिन की जोड़ी ने अपने चिर-परिचित अंदाज में बल्लेबाजी की। नरेन ने 10 गेंदों में चार चौकों की मदद से 18 रन बनाए और लिन के साथ पहले विकेट के लिए 3.4 ओवर में 39 रन जोड़े। नरेन को मैन ऑफ द मैच मोहित शर्मा ने बोल्ड किया।

इसके बाद इस मैच में पूरी तरह से लिन का जलवा देखने को मिला। गौतम गंभीर के साथ उन्होंने दूसरे विकेट के लिए 39 रन जोड़े जिसमें से सिर्फ आठ रन गंभीर के थे। गंभीर 78 के कुल स्कोर पर आउट हुए। वापसी कर रहे रॉबिन उथप्पा बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए।

मनीष पांडे 18 रनों का योगदान दे सके। मनीष के जाने के बाद अगली गेंद पर रन लेने की जल्दबाजी में लिन रन आउट हो गए। यहां से मैच पंजाब की झोली में जाता दिखने लगा। लिन 18वें ओवर में 132 के कुल स्कोर पर आउट हुए। अगले ओवर में मोहित ने युसूफ पठान (2) का विकेट लेकर कोलकाता की जीत की उम्मीदें लगभग खत्म कर दीं। कोलकाता को आखिरी ओवर में 20 रनों की जरूरत थी, लेकिन कोलिन डी ग्रांडहोमे (नाबाद 11) और क्रिस वोक्स (नाबाद 8) की जोड़ी जरूरी रन नहीं बना सकी और कोलकाता को हार का सामना करना पड़ा।

पंजाब के लिए राहुल तेवतिया सबसे सफल गेंजबाज रहे। उन्होंने अपने कोटे के चार ओवरों में सिर्फ 18 रन दिए और दो विकेट लिए। मोहित तीन ओवरों में 24 रन देकर दो विकेट अपने खाते में डाले। मैट हेनरी को एक सफलता मिली। इससे, पहले पंजाब ने बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 167 रन बनाए। उसे इस स्कोर तक पहुंचाने में रिद्धिमान साहा (38) और ग्लेन मैक्सवेल (44) के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 70 रनों की साझेदारी का अहम योगदान रहा।

पंजाब को मनन वोहरा (25) और मार्टिन गुप्टिल (12) ने सधी हुई शुरुआत दी और 4.5 ओवरों में 39 रन बना डाले। लेकिन 17 रनों के भीतर पंजाब ने तीन विकेट खो दिए। 56 के कुल योग तक आते-आते पंजाब ने मनन, गुप्टिल और शॉर्न मार्श (11) के विकेट गंवा दिए थे। लेकिन इसके बाद कप्तान मैक्सवेल ने 25 गेंदों में चार छक्के और एक चौके की मदद से तेज तर्रार पारी खेल टीम को संभाला। उन्होंने साहा के साथ सात ओवरों में 10 की औसत से रन बनाए। कुलदीप यादव मैक्सवेल और साहा को पवेलियन भेजा।

अंत के पांच ओवरों में पंजाब ने 53 रन जोड़े और तीन विकेट गंवाए। अक्षर पटेल ने नाबाद आठ, स्वप्निल सिंह ने दो और तेवतिया ने नाबाद 15 रनों का योगदान दिया। कोलकाता की तरफ से कुलदीप और वोक्स ने दो-दो विकेट लिए। उमेश यादव और नरेन को एक-एक सफलता मिली।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.