विराट और धोनी से प्रेरणा लेते हैं हार्दिक

विराट और धोनी से प्रेरणा लेते हैं हार्दिकहार्दिक पंड्या

रांची (भाषा)। हार्दिक पंड्या का मानना है दबाव की स्थिति में वह बेहतर प्रदर्शन करते हैं और उन्हें महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली से प्रेरणा मिलती है। रांची में न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच की पूर्व संध्या पर पंड्या ने अपने सीनियर खिलाड़ियों की सराहना करते हुए कहा, ‘‘जब वे दोनों (कोहली और धोनी) बल्लेबाजी करते हैं तो काफी सीखने को मिलता है। उनकी बल्लेबाजी, विकेटों के बीच दौड़ हमें प्रेरित करती है। एक अन्य स्तर पर है। उन्हें एक साथ बल्लेबाजी करते हुए देखना लुत्फ उठाने वाला होता है।''

कोहली (नाबाद 154) और धोनी (80) के बीच तीसरे विकेट की 151 रन की साझेदारी की बदौलत मोहाली में भारत ने सात विकेट से जीत दर्ज की जिसके बाद बुद्दवार को यहां झारखंड राज्य क्रिकेट संघ स्टेडियम परिसर में पांच मैचों की श्रृंखला में विजयी बढ़त बनाने के इरादे से उतरेगी। ऐसा लग रहा है कि चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे धोनी ने अपनी आक्रामक फार्म हासिल कर ली है और पंड्या ने कहा कि यह टीम इंडिया के लिए रोमांचक समय है।

उन्होंने कहा, ‘‘यह सकारात्मक रवैये को दर्शाता है। मैं उसकी (धोनी) बल्लेबाजी का लुत्फ उठाता हूं। बल्लेबाज के रुप में मैं जिस भी क्रम पर बल्लेबाजी करुं, हमें स्थिति के अनुसार बल्लेबाजी करनी चाहिए। यह सभी का काम है।''

धर्मशाला में श्रृंखला के पहले मैच में पंड्या ने पदार्पण करते हुए 31 रन देकर दो विकेट चटकाए थे, जिसके लिए उन्हें मैन आफ द मैच चुना गया। इस युवा बल्लेबाज ने कहा कि वह अब अधिक फिट और मजबूत हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं उतना ही प्रयास कर रहा हूं लेकिन मैंने अपनी फिटनेस पर कुछ अधिक काम किया है। मैं अब अधिक मजबूत हूं।''

दिल्ली में दूसरे एकदिवसीय के दौरान पंड्या ने 32 गेंद में 36 रन बनाकर भारत को जीत के बेहद करीब पहुंचा दिया था लेकिन अंतत: ट्रेंट बोल्ट की शार्ट गेंद पर वह कैच उछाल बैठे। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने पहले ही वह शाट खेला था लेकिन वह दिन मेरा नहीं था। मैं इसे दोहराने की कोशिश नहीं करुंगा और गलतियों से सबक सीखूंगा और अनुभव निश्चित तौर पर अहम भूमिका निभाएगा।''

यह पूछने पर कि क्या कोहली पर अधिक निर्भरता का टीम पर असर पड़ रहा है, पंड्या ने कहा, ‘‘जब विराट लय में हो तो मनोबल बढ़ता है। वह काफी प्रभाव छोड़ने वाला खिलाडी है। इसलिए वह जब जल्दी आउट हो जाता है तो बेशक इससे दबाव बनता है। टीम को दोबारा पारी संवारनी पड़ती है।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top