आईपीएल 2017 : कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब पर 8 विकेट से जीत दर्ज़ की 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   14 April 2017 12:31 AM GMT

आईपीएल 2017 : कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब पर 8 विकेट से जीत दर्ज़ की कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर।

कोलकाता (आईएएनएस)। इंडियन प्रीमियर लीग 10 में ईडन गार्डेंस स्टेडियम में गुरुवार को कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 8 विकेट से हरा दिया। मनीष पाण्डेय ने छक्का लगाकर कोलकाता की जीत को पक्का किया। किंग्स इलेवन पंजाब को हारने में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर की अहम भूमिका रही, गंभीर ने शानदार बल्लेबाज़ी करते हुए 49 गेंदों में 11 चौकों की मदद से नाबाद 72 रन बनाए। इस जीत में सुनील नरेन ने भी केकेआर की पारी की शुरुआत करते हुए 18 गेंदों में चार चौकों और तीन छक्कों की मदद से 37 रन बनाए।

स्पोर्ट्स से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उमेश यादव (33/4) की धारदार गेंदबाजी के बाद कप्तान गौतम गंभीर (नाबाद 72) की अर्धशतकीय पारी के दम पर कोलकाता नाइट राइडर्स ने गुरुवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 11वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को आठ विकेट से हरा दिया। यह पंजाब की इस संस्करण की पहली हार है। पंजाब ने कोलकाता के सामने 171 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे मेजबान टीम ने 16.3 ओवरों में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया।

गंभीर ने अपनी कप्तानी पारी में 49 गेंदें खेली, जिनमें 11 चौके जड़ते हुए 146.93 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए। यह कोलकाता का अपने घर में इस संस्करण का पहला मैच था जिसमें उसे जीत मिली।

कोलकाता की यह इस संस्करण में दूसरी जीत है और इसी के साथ वह आठ टीमों की अंकतालिका में पंजाब को बेदखल कर पहले स्थान पर आ गई है। पंजाब तीसरे स्थान पर पहुंच गई है। कोलकाता, पंजाब और हैदराबाद के समान अंक हैं, लेकिन नेट रन रेट के मामले में कोलकाता पहले स्थान पर है।

अपने पिछले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ हार झेलने के बाद कोलकाता इस मैच में अपने तूफानी सलामी बल्लेबाज क्रिस लिन के बिना उतरी थी। गौतम गंभीर ने सलामी जोड़ी में प्रयोग किया और अपने साथ वेस्टइंडीज के ऑफ स्पिनर सुनील नरेन को पारी की शुरुआत करने उतारा।

गंभीर का यह प्रयोग सफल रहा और सुनील नरेन ने कप्तान के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए महज 5.4 ओवरों में 76 रन जोड़ दिए। नरेन ने महज 18 गेंदों में तीन शानदार छक्के और चार चौकों की मदद से 37 रन की पारी खेली।

वरुण एरॉन द्वारा फेंके गए छठे ओवर की पहली दो गेंद पर नरेन ने दो छक्के और तीसरी गेंद पर चौका जड़ा। अगली गेंद पर एक बार फिर नरेन ने गेंद को सीमारेखा के पार पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन इस बर असफल रहे और डीप मिडविकेट पर अक्षर पटेल के हाथों लपके गए। सुनील ने चार ओवरों में 19 रन देकर एक विकेट भी लिया था। हरफनमौला खेल के कारण उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।

इसके बाद कप्तान को रोबिन उथप्पा (26) का साथ मिला। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 40 रन जोड़े। उथप्पा को पटेल ने पवेलियन भेजा। उथप्पा के बाद मनीष पांडे (नाबाद 25) ने गंभीर का साथ दिया और तीसरे विकेट के लिए 55 रनों की नाबाद साझेदारी कर टीम जीत दिलाई। मनीष ने 17वें ओवर की तीसरी गेंद पर मार्कस स्टोइनिस पर छक्का मार कोलकाता को इस सीजन की दूसरी जीत दिलाई।

कोलकाता ने टॉस जीता, पंजाब ने पहले बल्लेबाजी की

इससे पहले कोलकाता ने टॉस जीतकर पंजाब को बल्लेबाजी का आमंत्रण दिया था। पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 170 रन बनाए। पंजाब का यह स्कोर और बड़ा हो सकता था अगर वह अच्छी शुरुआत के बाद नियमित अंतराल पर अपने विकेट नहीं खोती तो।

पंजाब को मनन वोहरा (28) और हाशिम अमला (25) ने अच्छी शुरुआत दी। इस जोड़ी ने 10.25 की औसत से रन बनाते हुए पांच ओवरों में ही टीम का स्कोर 53 तक पहुंचा दिया। अपना पहला ओवर लेकर आए लेग स्पिनर पीयूष चावला ने इस जोड़ी को तोड़ा। चावला की गुगली को वोहरा पढ़ नहीं पाए और गेंद ने उनकी गिल्लियां बिखेर दीं।

मार्कस स्टोइनिस नौ रनों का ही योगदान दे सके और नरेन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। वोहरा के जाने के बाद पंजाब की रन गति धीमी हो गई। इस बीच दूसरे सलामी बल्लेबाज अमला को कोलिन ग्रांडहोमे ने पवेलियन भेज पंजाब को 97 के कुल स्कोर पर तीसरा झटका दिया। कप्तान ग्लेन मैक्सवेल ने तेजी से 14 गेंदों में 25 रन जोड़े, लेकिन अमला के जाने के बाद कुल योग में एक ही रन जुड़ा था कि उमेश यादव ने मैक्सवेल को भी पवेलियन लौटा दिया। 98 रनों के कुल स्कोर पर अपने पांच विकेट खो चुकी पंजाब को फिर डेविड मिलर (28) और रिद्धिमान साहा (25) ने संभाला और तेजी से रन बटोरे।

इन दोनों बल्लेबाजों ने 5.1 ओवरों में 11.03 की औसत से 57 रन जोड़े। उमेश ने मिलर को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। मिलर का विकेट लेने के बाद उमेश ने साहा की पारी का भी अंत किया। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर उमेश ने अक्षर पटेल को खाता नहीं खोलने दिया।

मोहित शर्मा (10) आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर आउट हुए। आखिरी गेंद पर वरुण एरॉन (4) पवेलियन लौटे।

पंजाब की तरफ से उमेश ने सर्वाधिक चार विकेट लिए। वोक्स को दो सफलता मिली। नरेन, चावला, और ग्रांडहोमे को एक-एक विकेट मिला।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top