फिर चला नाथन लियोन का जादू, भारत 189 रन पर ढेर

फिर चला नाथन लियोन का जादू, भारत 189 रन पर ढेरआफ स्पिनर नाथन लियोन।

बेंगलुरु (भाषा)। आफ स्पिनर नाथन लियोन की रिकार्ड गेंदबाजी से आस्ट्रेलिया ने भारत को दूसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन 189 रन पर ढेर करने के बाद सतर्क शुरुआत करते हुए बिना विकेट खोए 40 रन बनाकर अपनी स्थिति बेहद मजबूत कर ली।

भारतीय सरजमीं पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विदेशी गेंदबाज बने लियोन ने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए 50 रन देकर आठ विकेट चटकाए जिससे सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल की 90 रन की जुझारु पारी के बावजूद भारतीय टीम 71.2 ओवर ही मैदान पर टिकी सकी। राहुल ने 30 और 61 रन पर मिले दो जीवनदान का फायदा उठाते हुए 205 गेंद की अपनी पारी में नौ चौके जड़े।

लियोन ने भारत में किसी विदेशी गेंदबाज के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का दक्षिण अफ्रीका के लांस क्लूसनर का रिकार्ड तोडा जिन्होंने नवंबर 1996 में कोलकाता में 64 रन देकर आठ विकेट चटकाए थे।

दिन का खेल खत्म होने पर आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर और मैथ्यू रेनशा क्रमश: 23 और 15 रन बनाकर खेल रहे थे। वार्नर ने अब तक 51 जबकि रेनशा ने 47 गेंद का सामना करते हुए एक-एक चौका जड़ा है। वार्नर हालांकि इस बीच नौ रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब इशांत शर्मा की गेंद पर गली में अजिंक्य रहाणे ने उनका कैच छोड दिया। आस्ट्रेलिया अब भारत से सिर्फ 149 रन से पीछे है जबकि उसके सभी 10 विकेट शेष हैं।

भारत मौजूदा श्रृंखला की तीन पारियों में लगातार तीसरी बार 200 रन के आंकड़े को भी छूने में नाकाम रहा। टीम ने पुणे में पहले टेस्ट में 333 रन की शर्मनाक हार के दौरान दोनों पारियों में क्रमश: 105 और 107 रन बनाए थे।

लियोन ने लंच से ठीक पहले चेतेश्वर पुजारा (17) को पवेलियन भेजने के बाद दूसरे सत्र में भारतीय कप्तान विराट कोहली (12) और अजिंक्य रहाणे (17) की पारी का भी अंत किया। लियोन ने अंतिम सत्र में भारतीय बल्लेबाजी को ध्वस्त करते हुए रविचंद्रन अश्विन (07), रिद्धिमान साहा (01), रविंद्र जडेजा (03), राहुल और इशांत शर्मा (00) को पवेलियन भेजा। भारत ने अंतिम पांच विकेट सिर्फ 15 रन जोड़कर गंवाए।

इससे पहले टास जीतकर बल्लेबाजी करने उतरे भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही। साढ़े पांच साल बाद टीम में वापसी कर रहे अभिनव मुकुंद (00) पारी के तीसरे ओवर में ही स्टार्क की गेंद पर खाता खोले बिना पगबाधा हो गए। राहुल और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 25 ओवर में 61 रन जोड़कर पारी को संवारने की कोशिश की।

लियोन ने हालांकि लंच से ठीक पहले पारी के 28वें ओवर में पुजारा (17) को पीटर हैंड्सकोंब के हाथों कैच करा दिया। लियोन की गेंद पुजारा के बल्ले का किनारा लेकर पैड से टकराती हुई हवा में उछल गई और फारवर्ड शार्ट लेग पर खडे हैंड्सकोंब ने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की।

पुजारा 66 गेंद की पारी के दौरान पिच पर सहज नजर नहीं आए। राहुल भी इससे पहले भाग्यशाली रहे जब पुणे में भारतीय बल्लेबाजी को ध्वस्त करने वाले बायें हाथ के स्पिनर ओकीफी की गेंद पर हैंड्सकोंब ने सिली मिड आफ पर उनका कैच छोड दिया। राहुल इस समय 30 रन बनाकर खेल रहे थे।

लंच के बाद लियोन ने कोहली को पगबाधा आउट करके अपना दूसरा विकेट हासिल किया। भारतीय कप्तान ने लियोन की सीधी गेंद पर कोई शाट नहीं खेला जो उनके पैड से टकराई। अंपायर नाइजेल लोंग को कोहली को आउट देने में बिलकुल भी झिझक नहीं हुई। भारतीय कप्तान ने राहुल से सलाह के बाद रिव्यू लिया लेकिन रीप्ले में दिखा कि गेंद सीधे विकेट से टकरा रही थी, जिसके बाद तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को कायम रखा। लियोन ने टेस्ट क्रिकेट में पांचवीं बार कोहली को आउट किया। इस समय भारत का स्कोर तीन विकेट पर 88 रन था। रहाणे के खिलाफ पहली ही गेंद पर लियोन ने पगबाधा की विश्वसनीय अपील की लेकिन अंपायर ने इसे ठुकरा दिया।

राहुल ने लियोन की गेंद पर एक रन के साथ 40वें ओवर में भारत के रनों का सैकडा पूरा किया। डेविड वार्नर ने 61 रन के स्कोर पर लियोन की गेंद पर लेग स्लिप में राहुल का मुश्किल कैच छोड़ा। लियोन ने 48वें ओवर में रहाणे की पारी का अंत किया जब यह भारतीय बल्लेबाज आगे बढ़कर शाट खेलने की कोशिश में चूक गया और विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने उन्हें स्टंप किया।

अपने पिछले मैच में तिहरा शतक जडने वाले करुण नायर (26) लय में दिखे। उन्होंने मिशेल स्टार्क और ओकीफी पर चौके जडे। यह बल्लेबाज भी हालांकि टर्न लेती पिच पर रहाणे जैसी गलती कर गया और बायें हाथ के स्पिनर ओकीफी की गेंद को आगे बढकर खेलने की कोशिश में पूरी तरह से चूककर स्टंप हो गया।

चाय तक भारत का स्कोर पांच विकेट पर 168 रन था। अंतिम सत्र में लियोन के सामने भारतीय निचला क्रम ताश के पत्तों की तरह बिखर गया। इस आफ स्पिनर ने चाय के बाद 17 रन देकर पांच विकेट चटकाए। चाय के बाद तीसरे ओवर में सबसे पहले लियोन ने अश्विन को बैकवर्ड शार्ट लेग पर वार्नर के हाथों कैच कराया। अश्विन के विकेट के साथ ही लियोन भारत के खिलाफ आस्ट्रेलिया के सबसे सफल गेंदबाज बने। उन्होंने तेज गेंदबाज ब्रेट ली को पीछे छोड़ा जिन्होंने भारत के खिलाफ 12 मैचों में 53 विकेट चटकाए थे।

साहा भी 14 गेंद में सिर्फ एक रन बनाने के बाद लियोन की गेंद पर स्लिप में स्मिथ को कैच दे बैठे जबकि जडेजा भी आस्ट्रेलियाई कप्तान के हाथों लपके गए। राहुल भी तेजी से रन जुटाने में नाकाम रहे और लियोन की गेंद को हवा में लहराकर मिड आफ पर रेनशा को आसान कैच दे बैठे। लियोन ने अगली गेंद पर इशांत शर्मा को शार्ट लेग पर हैंड्सकोंब के हाथों कैच कराके भारतीय पारी के अंत किया। भारत के खिलाफ 12वां टेस्ट खेल रहे लियोन के नाम पर इस टीम के खिलाफ अब 58 विकेट हो गए हैं।

आस्ट्रेलिया ने पहला टेस्ट जीतने वाली अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है। भारत ने कंधे की चोट के कारण बाहर हुए मुरली विजय की जगह मुकुंद जबकि जयंत यादव की जगह करुण नायर को टीम में शामिल किया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top