15 महीने बाद आज टेनिस कोर्ट पर दिखेंगी मारिया शारापोवा, बिना रैंकिंग खेलेंगी पहला मैच

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   26 April 2017 5:01 PM GMT

15 महीने बाद आज टेनिस कोर्ट पर दिखेंगी मारिया शारापोवा, बिना रैंकिंग खेलेंगी पहला मैचमारिया शारापोवा।

लखनऊ। 15 महीने का बैन झेलने के बाद आज पूर्व नंबर एक टेनिस खिलाड़ी मारिया शारापोवा वापसी कर रही हैं। डोपिंग प्रतिबंध हटने के बाद शारापोवा का ये पहला मैच है। 30 वर्षीय शारापोवा पर प्रतिबंधित दवा ‘मेल्डोनियम’ के इस्तेमाल को लेकर दो साल का प्रतिबंध लगाया गया था। लेकिन खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) ने उन पर लगे प्रतिबंध की अवधि बाद में घटा कर 15 माह कर दी थी। रूसी सुंदरी के नाम से मशहूर शारापोवा गैर वरीय खिलाड़ी के तौर पर सोमवार को शुरू हुए स्टुटगार्ट ओपन टूर्नामेंट में खेलेंगी। शारापोवा को वाइल्ड कार्ड के जरिए इस टूर्नामेंट में प्रवेश मिला है।

डब्ल्यूटीए के आधिकारिक नियमों के मुताबिक, "एक खिलाड़ी को टूर्नामेंट के पहले दिन खेलने के लिए उपलब्ध होना रहना पड़ता है। ये नियम सभी लागू होता है लेकिन सोमवार को शुरू स्टुटगार्ट ओपन में शारापोवा को रियायत दी गई है। शारापोआ आज अपने पहले दौर में रोबर्टा विंची से भिड़ेंगी। खास बात ये भी है कि लगभग 15 महीने बाद वापसी कर रही हैं शारापोवा को पोर्श प्रायोजित कर रहा है जबकि पोर्श इस टूर्नामेंट का भी प्रायोजक है।

मारिया शारापोवा आत्मकथा भी लिख रही हैं।

बिना रैंकिंग खेलेंगी शारापोवा

शारापोवा को डब्ल्यूटीओ की ओर से कोई रैकिंग नहीं दी गई है। ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि शारापोवा ने पिछले एक साल से कोई मैच नहीं खेला है। डब्ल्यूटीओ के नियम के अनुसार किसी भी खिलाड़ी को रैंकिंग में आने के लिए कम से कम तीन टूर्नामेंट में भाग लेना होता है। इसके अलावा पिछले 52 सप्ताह में कम से कम 10 अंक अर्जित करने होते है, इसके बाद ही रैंकिंग दी जाती है। स्टुटगार्ट टूर्नामेंट के विजेता को प्रीमियर 12 टूर्नामेंट में 1,07,036 यूरो और 470 अंक मिलेगा। स्टुटगार्ट ओपन के पहले दौर के बाद शारापोवा को एक अंक मिलेगा।

किसको मिलता है वाइल्ड कार्ड

वाइल्ड कार्ड अक्सर ऐसे बड़े खिलाड़ियों को मिलता है जिनकी रैंकिंग घायल होने की वजह से गिर जाती है। कई बार स्थानीय उभरते हुए खिलाड़ियों को भी वाइल्ड कार्ड एंट्री दी जाती है। लेकिन ये फैसला लेने का टूर्नामेंट आयोजक के पास होता है। चूंकी शारापोवा पर बैन था जिस कारण उनकी रैंगिंक गिर गई, इसलिए पांच बार की ग्रैंड स्लैम विजेता को वाइल्ड कार्ड एंट्री दी जा रही है।

बैन के दौरान मारिया शारोपावा ने फैशन शो में भी हिस्सा लिया।

मुक्केबाजी, पढ़ाई और फैशन

शारापोवा ने 'ड्रग प्रतिबंध' के दाग को मिटाने के लिए बहुत मेहनत किया। बैन के दौरान शारापोवा ने कई ग्लैमर कार्यक्रमों में हिस्सा लिया जैसे न्यूयॉर्क फैशन वीक, वैनिटी फेयर ऑस्कर पार्टी आदि। एल्टन जॉन के साथ उनकी सेल्फी काफी चर्चित रही। शारापोवा ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में दो सप्ताह के पाठ्यक्रम में भी दाखिला लिया। शारापोवा अपनी आत्मकथा 'अनस्टॉपबल' भी लिख रही हैं। फिटनेस के लिए मारिया ने मुक्केबाजी की भी मदद ली।

नंबर एक बनने की होड़

सेरेना विलियम्स प्रेग्नेंसी की वजह से इस सीजन टेनिस कोर्ट से दूर रहेंगी। ऐसे में नंबर एक बनने की होड़ और ग्रैंड स्लैम टाइटल के लिए होड़ इस ज्यादा रहेगी। बैन की वजह से शारोपावा पिछले पांच सीजन दूर रहीं। ऐसे में उनकी नजर मजूबत वापसी पर रहेगी। उनकी वापसी को लेकर वीनस विलियम्स ने कहा कि शारोपावा को खेलने से नहीं रोकना चाहिए। वाइल्ड कार्ड देने का फैसला तो टूर्नामेंट आयोजक का होता है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top