मोहाली टेस्ट: इंग्लैंड के शीर्ष बल्लेबाज लंच से पहले लौटे 

मोहाली टेस्ट: इंग्लैंड के शीर्ष बल्लेबाज लंच से पहले लौटे भारत ने इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टेयर कुक (27 रन), हसीब हमीद (नौ रन), जो रुट (15 रन) और मोईन अली (16 रन) को पवेलियन भेज दिया था।

मोहाली (भाषा)। अपने गेंदबाजों के अनुशासित प्रदर्शन और इंग्लैंड के बल्लेबाजों के गैर जिम्मेदाराना शाट्स की मदद से भारत ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन आज लंच तक इंग्लैंड के चार विकेट 92 रन पर निकाल दिये। भारत ने इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टेयर कुक (27 रन), हसीब हमीद (नौ रन), जो रुट (15 रन) और मोईन अली (16 रन) को पवेलियन भेज दिया था।

बल्लेबाजी के लिये कठिन पिच पर हमीद अच्छी गेंदबाजी का शिकार हुए जबकि कुक और रुट ने गैर जिम्मेदाराना शाट खेलकर विकेट गंवाये। उमेश यादव, आर अश्विन, जयंत यादव और मोहम्मद शमी सभी ने एक एक विकेट लिया। हमीद ने आत्मविश्वास के साथ शुरुआत की और पहली 30 गेंद तक कोई जोखिम नहीं लिया। उमेश के फेंके दसवें ओवर की आखिरी गेंद पर वह चूके और अजिंक्य रहाणे को गली में आसान कैच थमा बैठे।

कुक ने 27 रन की पारी में छह चौके लगाये। शमी की गेंद पर उन्हें तीसरी स्लिप में रविंद्र जड़ेजा ने जीवनदान भी दिया जब उनका स्कोर तीन रन था। इसके बाद 23 के स्कोर पर उन्हें फिर जीवनदान मिला जब शमी की गेंद पर अश्विन ने मिडविकेट पर उनका कैच छोड़ा। जयंत यादव ने अपनी सातवीं गेंद पर रुट को पगबाधा आउट किया। उस समय स्कोर दो विकेट पर 51 रन था। अश्विन की गेंद पर कट शाट खेलने के प्रयास में कुक ने विकेट के पीछे पार्थिव पटेल को कैच दे दिया।

मोईन और बेयरस्टा (नाबाद 20) ने 36 रन जोड़े। मोईन ने जयंत को लगातार चौका और छक्का लगाया। कोहली की चतुर कप्तानी से मोईन का विकेट भारत को मिला। शार्ट गेंद पर मोईन की कमजोरी को भांपते हुए कोहली ने फाइन लेग सीमा पर एक ही खिलाड़ी मुरली विजय को लगाया। शमी ने शार्टपिच गेंद डाली और हुक शाट खेलने के प्रयास में मोईन ने विजय को कैच थमा दिया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top