प्रीमियर बैडमिंटन लीग के लिए हैदराबाद हंटर्स ने कैरोलिना मारिन को 61.50 लाख रुपए में खरीदा 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   10 Nov 2016 12:09 PM GMT

प्रीमियर बैडमिंटन लीग के लिए हैदराबाद हंटर्स ने कैरोलिना मारिन को 61.50 लाख रुपए में खरीदा स्पेन की ओलंपिक चैम्पियन कैरोलिना मारिन।

नई दिल्ली (भाषा)। प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के दूसरे सत्र की खिलाड़ियों की नीलामी में स्पेन की ओलंपिक चैम्पियन कैरोलिना मारिन सबसे महंगी खिलाड़ी रहीं। दो बार की विश्व चैम्पियन कैरोलिना मारिन को हैदराबाद हंटर्स ने 61.50 लाख रुपए में खरीदा। वहीं रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पीवी सिंधू और लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल को अधिक कीमत नहीं मिली। भारतीय खिलाड़ियों के बीच रियो ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल में पहुंचे किदांबी श्रीकांत को अवध वारियर्स ने 51 लाख रुपए में खरीदा।

प्रीमियर बैडमिंटन लीग एक जनवरी से 14 जनवरी के बीच खेली जाएगी।

दक्षिण कोरिया की महिला खिलाड़ी सुंग जी ह्यून दूसरी सबसे महंगी खिलाड़ी रहीं। उन्हें मुंबई रॉकेट्स ने 60 लाख रुपए में खरीदा। डेनमार्क के धुरंधर पुरुष खिलाड़ी जैन ओ जोर्गेनसेन पर तीसरी सबसे बड़ी बोली लगी। उन्हें 59 लाख रुपए में दिल्ली एसर्स ने अपने साथ शामिल किया।

पीवी सिंधू हालांकि दुर्भाग्यशाली रही और रियो खेलों में शानदार प्रदर्शन के बाद भारत के आइकोनिक खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ होने के बावजूद 39 लाख रुपए ही पा सकीं।

ड्रा में मेरा नाम सबसे आखिर में आया इसलिए मुझे कम पैसे मिले लेकिन कोई बात नहीं। मैं चेन्नई में वापसी करके खुश हूं।
पीवी सिंधू बैडमिंटन खिलाड़ी

साइना पहले सत्र में ली चोंग वेई की तरह एक लाख डालर में बिकी थी और सबसे महंगे खिलाड़ियों में शामिल थी लेकिन आज पहले राउंड की बोली के बाद किसी ने उन्हें नहीं खरीदा और उनकी पिछली फ्रेंचाइजी अवध वारियर्स ने 33 लाख रुपए की आधार कीमत पर उन्हें बरकरार रखा।

हमारे पास बराबरी के अधिकार का विकल्प था और हम बाकी टीमों के बोली लगाने का इंतजार कर रहे थे लेकिन किसी ने बोली नहीं लगाई इसलिए हमने उसे आधार कीमत पर रिटेन किया।
अभिजीत सरकार निदेशक अवध वारियर्स

दक्षिण कोरिया की महिला खिलाडी सुंग जी ह्युन दूसरी सबसे महंगी खिलाडी रही जिनके लिए मुंबई राकेट्स ने 60 लाख रुपए की बोली लगाई। डेनमार्क के यान ओ योर्गेनसन को गत चैम्पियन दिल्ली ऐसर्स ने 59 लाख रुपए में खरीदा।

ओलंपिक कांस्य पदक विजेता डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन के लिए बेंगलुरु ब्लास्टर्स ने 39 लाख रुपए की बोली लगाई जबकि दिल्ली और बेंगलुरु फ्रेंचाइजी ने क्रमश: वान होन सोन और युगल विशेषज्ञ यू योन सियोंग को इसी कीमत पर खरीदा।

कुल 15 आइकोनिक खिलाड़ियों की बोली लगी जिसमें से 12 को छह फ्रेंचाइजियों ने खरीदा। हैदराबाद हंटर्स ने मलेशिया के वी कियोंग टेन को 33 लाख जबकि मुंबई राकेट्स ने कोरिया के स्टार ली यंग डेई को 37 लाख 50 हजार रुपए में खरीदा। चेन्नई की टीम ने इंडोनेशिया के टोनी सुगियार्तो को 26 लाख जबकि लखनउ ने मलेशिया के वी शेम गोह को 33 लाख रुपए में खरीदा।

अन्य भारतीयों में एचएस प्रणय और अजय जयराम को मुंबई फ्रेंचाइजी ने क्रमश: 22 और 19 लाख रुपए में खरीदा। हैदराबाद ने बी साई प्रणीत के लिए 21 लाख रुपए की बोली लगाई जबकि बेंगलुरु ने सौरभ वर्मा को 13 लाख में खरीदा।

दिल्ली ने युगल विशेषज्ञ ज्वाला गुट्टा को 10 लाख में खरीदा जबकि ब्लास्टर्स ने दिल्ली की इसी बोली पर बराबरी के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए अश्विनी पोनप्पा को अपनी टीम के साथ जोड़ा।

आज नीलामी में शामिल हुए 154 खिलाड़ियों में से 50 को छह टीमों ने खरीदा और इस दौरान प्रत्येक ने एक करोड़ 93 लाख रुपए खर्च किए। प्रत्येक टीम छह विदेशी सहित अधिकतम 10 खिलाड़ी अपने साथ जोड़ सकती थी।

लीग का आयोजन एक से 14 जनवरी 2017 तक किया जाएगा। प्रत्येक मुकाबले में पांच मैच होंगे जिसमें दो पुरुष एकल, एक महिला एकल, एक पुरुष युगल और एक मिश्रित युगल मैच होगा। मैच तीन गेम के होंगे और प्रत्येक गेम में 11 अंक होंगे। लीग के विजेता को तीन करोड़ रुपए जबकि उप विजेता को डेढ़ करोड़ रुपए की राशि दी जाएगी। सेमीफाइनल में हारने वाली टीमों को 75-75 लाख रुपए मिलेंगे।

भारत की राष्ट्रीय टीम के कोच पीबीएल के मुख्य सलाहकार पुलेला गोपीचंद ने कहा कि लीग में जिस तरह के खिलाड़ी खेलेंगे उसको देखते हुए यह काफी रोमांचक होगी।

इस खेल ने देश में काफी रोमांच पैदा किया है, खासकर रियो ओलम्पिक के बाद। दर्शकों की संख्या को ध्यान में रखते हुए यह लीग के आयोजन का सबसे उपयुक्त वक्त है।
गोपीचंद भारत की राष्ट्रीय टीम के कोच पीबीएल के मुख्य सलाहकार

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top