Top

डेविस कप में रामकुमार व युकी की वजह से भारत की हुई स्वप्निल शुरुआत : आनंद अमृतराज 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   4 Feb 2017 4:36 PM GMT

डेविस कप में रामकुमार व युकी की वजह से भारत की हुई स्वप्निल शुरुआत : आनंद अमृतराज भारतीय टीम के कप्तान आनंद अमृतराज।

पुणे (भाषा)। पुणे के बालेबाड़ी स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए डेविस कप के एशिया-ओसनिया जोन ग्रुप-ए के मुकाबले के पहले दिन रामकुमार रामनाथन व युकी भांबरी की सीधे सेटों में हुई जीत से भारत ने न्यूजीलैंड पर 2-0 की बढ़त ली जिस पर भारतीय टीम के कप्तान आनंद अमृतराज ने कहा कि वह इससे अच्छी सकारात्मक शुरुआत की उम्मीद नहीं कर सकते थे।

युकी भांबरी और रामकुमार रामनाथन के पहले दो एकल मुकाबलों में सीधे सेटों में जीत के साथ भारत को 2-0 की बढ़त दिलाने के बाद अमृतराज ने कहा, ‘‘यह स्वप्निल शुरुआत है क्योंकि दोनों मैच तीन सेटों में जीतने की उम्मीद नहीं की जा रही थी, मैं मुकाबले की बेहतर शुरुआत की उम्मीद नहीं कर सकता था। हमारे प्रदर्शन ने मुकाबले के पहले के सभी विवादों को पीछे छोड़ दिया।''

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने लंबे समय से रामकुमार को आज की तरह सर्विस करते हुए नहीं देखा। उसने बड़े अंकों पर ऐस लगाए। मैं उसकी कोर्ट कवरेज से भी काफी प्रभावित हूं। दोनों मैचों में हमारी रणनीति अच्छी रही।'' इस मुकाबले के बाद अमृतराज भारतीय कप्तान की जिम्मेदारी संभालेंगे।

अमृतराज ने हालांकि कल के युगल मुकाबले को हल्के में नहीं लेने के प्रति चेताया। इस मुकाबले में अनुभवी लिएंडर पेस और विष्णु वर्धन की जोडी को न्यूजीलैंड के माइकल वीनस और एर्टम सितेक के खिलाफ खेलना है।

अमृतराज ने कहा, ‘‘3-0 की जीत के अंतर से मुझे खुशी मिलेगी। यह कड़ा मुकाबला होगा। वे एशिया ओसियाना क्षेत्र की शीर्ष टीमों में शामिल हैं।'' पहले एकल के शुरुआती दो सेट में 1-3 और 0-3 से पिछड़ने के बाद वापसी करने वाले युकी ने कहा कि उन्होंने इन दोनों ही मौकों पर विरोधी खिलाड़ी को दबदबा नहीं बनाने दिया।

दूसरी तरफ रामकुमार ने कहा कि इस मुकाबले से पहले फ्लोरिडा में एमीलियो सांचेज अकादमी में ट्रेनिंग का उन्हें काफी फायदा मिला।

न्यूजीलैंड के कप्तान एलिस्टेयर हंट ने कहा कि भले ही उनकी टीम 0-2 से पिछड़ रही है लेकिन डेविस कप के इतिहास में कई ऐसे मौके रहे हैं जब टीमों ने इस स्थिति से उबरकर जीत दर्ज की है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.