यकीन मानिए ये सड़क है 

यकीन मानिए ये सड़क है त्रिलोकपुर गाँव में सड़क पर भरे गंदे पानी के बीच से होकर जाते बच्चे। 

मोहम्मद आमिल, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

एटा। एटा की विकासखंड मारहरा का त्रिलोकपुर गाँव बदहाली के दौर से गुजर रहा है। गाँव की सड़कों पर कीचड़ युक्त पानी भरा रहता है। बारिश के बाद गाँव के कई सड़कों ने छोटे-छोटे तालाब का रूप ले लिया है। ऐसे हालात में ग्रामीणों का बुरा हाल है।

गाँव त्रिलोकपुर की आबादी लगभग पांच हजार है। गाँव की प्रमुख सड़कें पूरी तरह से उखड़ी हुई हैं। बारिश होने के बाद यहां की हर गली कीचड़ से भर जाती है। त्रिलोकपुर गाँव की सड़क से करीब आधा दर्जन गाँव जुड़े हुए हैं। सड़क खराब होने से इन गाँवों के लोगों को आने जाने में काफी परेशानी होती है।

ग्रामीण मुन्नालाल (50 वर्ष) कहते हैं, ‘‘गाँव की सड़कें टूटी और खराब पड़ी हैं। प्रधान भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। गंदा पानी भरा होने से गाँव में बीमारी फैल सकती है।”

ये भी पढ़ें- गाँव के इस शख्स ने लगाए दो लाख पौधे

रामपाल सिंह (45 वर्ष) कहते हैं, ‘‘गाँव की हर गली में पानी भरा हुआ है। आए दिन इस गंदे पानी में कोई न कोई गिरता रहता है। गाँव के हालात बदतर हैं। कई बार अधिकारियों से भी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ।”

जब इस सम्बंध में मारहरा ब्लाक के बीडीओ ज्ञान सिंह से बात की तो उन्होंने बताया, ‘‘गाँवों में खराब सड़कों को सही किया जा रहा है। साफ-सफाई में भी ख्याल रखा जा रहा है। त्रिलोकपुर गाँव के प्रधान द्वारा विकासकार्य की कार्ययोजना बनकर आई है। बरसात से पहले सड़कें सही कराई जाएंगी।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top