डीएम कन्नौज ने लापरवाही के चलते दो एसडीएम को थमाया नोटिस 

डीएम कन्नौज ने लापरवाही के चलते दो एसडीएम को थमाया नोटिस प्रतीकात्मक फ़ोटो 

कन्नौज। जिले में चल रहे विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान से डीएम खफा हैं। उन्होंने कन्नौज के दो उपजिलाधिकारी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। हवाला दिया गया है कि बूथों के हिसाब से औसत एक-एक आवेदन भी नहीं आया है।

ये भी पढ़ें- इंजीनियरिंग और एमबीए करने वाले युवाओं को एलोवेरा में दिख रहा कमाई का फ़्यूचर

डीएम जगदीष प्रसाद ने ‘गांव कनेक्शन’ को बताया कि ‘‘जुलाई में मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान चल रहा है। तीनों विधानसभा क्षेत्र के एसडीएम ने जो 17 जुलाई तक रिपोर्ट भेजी है, उसमें तिर्वा और छिबरामऊ विधानसभा क्षेत्र की प्रगति खराब है। बूथों के हिसाब से एक-एक आवेदन भी वोट बढ़ाने के लिए नहीं आया।’’ डीएम आगे बताते हैं, ‘‘लगता है भ्रमण पर कोई भी अधिकारी नहीं जा रहा है। जो बीएलओ कर रहे हैं उसी हिसाब से कागजी रिपोर्ट भेजी जा रही है। यह कैसे हो सकता है कि एक बूथ पर 17 दिनों बाद भी एक-एक आवेदन भी न आए।’’ फिलहाल एसडीएम तिर्वा शालिनी प्रभाकर और एसडीएम छिबरामऊ मंसाराम को नोटिस भेजकर जवाब मांगा गया है।

ये भी पढ़ें- फूड एटीएम: ताकि बचा हुआ खाना बर्बाद हो, न लखनऊ में कोई भूखा सोए

निर्वाचन आयोग की ओर से जुलाई में मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान के तहत वोट बढ़ाने, नाम व पता संशोधित कराने और गलत नाम कटाने का काम हो रहा है। इसकी प्रगति रिपोर्ट डीएम मंगाते हैं। डीएम ने बताया कि ‘‘तिर्वा में 400 के करीब बूथ हैं, लेकिन 17 जुलाई तक वोट बढ़ाने के लिए करीब 65 फार्म ही आए। यह जांच का विषय है। औसत एक बूथ पर एक आवेदन भी नए वोट के लिए नहीं आया। इसी तरह एसडीएम छिबरामऊ का काम भी ठीक नहीं मिला। एसडीएम कन्नौज का काम दोनों विधानसभा क्षेत्र से ठीक पाया गया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहांक्लिक करें।

Share it
Top