31 मार्च से पहले एलआईसी पालिसी में कराएं आधार व पैन लिंक, जानें पूरा प्रोसेस 

Ashwani DwivediAshwani Dwivedi   27 Dec 2017 6:09 PM GMT

31 मार्च से पहले एलआईसी पालिसी में कराएं आधार व पैन लिंक, जानें पूरा प्रोसेस घर बैठे एलआईसी पॉलिसी से पैन व आधार कैसे लिंक करे।

लखनऊ। सामान्यतः काफी लोगों के पास एलआईसी पॉलिसी होती है। पिछले कुछ वर्षों में वित्त से जुड़े नियमो में काफी परिवर्तन व संशोधन हुए है।भारत सरकार के नए निर्देश के तहत अब जीवन बीमा पॉलिसी में आधार कार्ड व परमानेंट एकाउंट नंबर (पैन) को लिंक कराना अनिवार्य है तभी पॉलिसी धारक को सर्वाइवल बेनिफिट और क्लेम और मैच्योरिटी की राशि उसके खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

भारतीय जीवन बीमा निगम के ट्रांस गोमती शाखा के विकास अधिकारी रमेश चंद्र पांडेय बताते है कि, “अधिकांश पॉलिसी धारक या तो एजेंट के माध्यम से या एलआईसी आफिस जाकर लाइन मे लगकर अपनी जीवन बीमा पॉलिसी को आधार व पैन से लिंक करा रहे है जिसमे काफी समय बर्बाद होता है।अभी तक भारत सरकार के निर्देशानुसार पॉलिसी से आधार व पैन कार्ड लिंक कराने की अवधि 31 दिसम्बर थी जो कि 31 मार्च 2018 तक बढ़ा दी गयी है।”

ये भी पढ़ें-इन बैंको से हो रही है लोन लेने में परेशानी तो यहां करें शिकायत

आइये आपको बताते है कि घर बैठे आप अपनी एलआईसी पॉलिसी को आधार और पैन से कैसे लिंक करा सकते है-

  • अपना आधार कार्ड ,पैन कार्ड,व पॉलिसी की लिस्ट अपने पास रखे।
  • फिर एल आई सी की वेबसाइट www.licindia.in पर जाए।
  • लिंक आधार एंड पैन टू पॉलिसी पर क्लिक करे।
  • एक फॉर्म खुलकर सामने आएगा जिसने नाम, जन्मतिथि,पिता का नाम,आधार नंबर ,जेंडर,ईमेल आई डी,पैन नंबर,पॉलिसी नंबर व मोबाइल नम्बर की जानकरी भरे ,
  • मोबाइल नंबर वही डाले जो आधार कार्ड पर अंकित हो अगर आधार पर मोबाइल नंबर अंकित नही है ,तो नजदीकी एलआईसी शाखा से संपर्क करे।
  • नीचे दिए गए कैप्चा पासवर्ड को भरे और सबमिट करें। अब आपके मोबाइल नंबर पर या ईमेल आई डी पर वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आएगा उसे भरे।

बस हो गयी आपकी पॉलिसी आधार व पैन कार्ड से लिंक थोड़ी ही देर में आपको एल आई को तरफ से कंफेरमशन संदेश वाया मेसेज प्राप्त हो जाएगा।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top