माहवारी के दिनों में भी जा सकती हैं मंदिर, छू सकती हैं अचार

माहवारी के दिनों में भी जा सकती हैं मंदिर, छू सकती हैं अचारमहिलाओं, किशोरियों को बांटे गए नैपकिन।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

कानपुर। जो महिलाएं, किशोरियां उन दिनों के बारे में बताने में भी हिचकिचाती थीं, आज इसपर खुलकर चर्चा कर रहीं हैं। कानपुर नगर के बिधनू ब्लॉक के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में 35 गाँव की महिलाओं व किशोरियों ने हिस्सा लिया।

कार्यक्रम में महिलाओं और किशोरियों ने हिस्सा लिया और बेबाकी से अपनी समस्याओं और जिज्ञासाओं के बारे में खुलकर बात की। जहां एक ओर किशोरियों ने माहवारी से जुड़ी हुयी जानकारियां प्राप्त की वहीँ दूसरी और कपड़े के इस्तेमाल से होने वाली बीमारियों और समस्याओं के बारे में खुल कर बात भी की।

विशेषज्ञों ने किया जागरूक।

बिधनू सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की बीपीसीएम प्रिया वर्मा ने लड़कियों व महिलाओं को माहवारी से जुड़ी जानकारी देते हुए उनके प्रश्नों का जवाब दिया। महावारी के समय मंदिर न जाने, अचार न छूने और अन्य मिथकों के बारे में सही जानकारी दी तो तो वहीँ दूसरी माहवारी में कपड़ें की जगह नैप्कीन के इस्तेमाल के बारे में जागरूक किया।

ये भी पढ़ें- Menstrual Hygiene Day : गाँव कनेक्शन की मुहिम, गाँव-गाँव में हो रही ‘उन दिनों’ पर बात

किशोरियों को मुफ्त में सेनेटरी नैपकिन का वितरण भी किया गया

कार्यक्रम के विषय में कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरपी यादव ने कहा, "गाँव कनेक्शन हमेशा ही जन जागरूकता के लिए ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करता रहता है जिसके लिए टीम धन्यवाद के पात्र है यह एक ऐसा मुद्दा है, जिसमें आज भी किशोरिया और महिलाएं बात करने से हिचकती हैं। ऐसे में इस तरह का आयोजन उनकी चुप्पी तोड़ने और उनमें जागरुक करने की एक अच्छी कोशिश है गाँव कनेक्शन को धन्यवाद देते हुये यह आशा करेंगे की ऐसे आयोजन करते रहे।"

Share it
Top