यूपी : फैजाबाद में गिरी प्राइमरी पाठशाला की दीवार, एक बच्चे की हुयी मौत 

यूपी : फैजाबाद में गिरी प्राइमरी पाठशाला की दीवार, एक बच्चे की हुयी मौत फैजाबाद में गिरी स्कूल की दीवार 

फैजाबाद। लालबाग प्राइमरी पाठशाला स्कूल की जर्जर दीवार के गिरने से आज उसमें खेल रहे पांच बच्चों में से एक बच्चे की मौत हो गयी बाकी चार बच्चों की हालत अभी नाजुक बताई जा रही है ।

प्राथमिक पाठशाला लालबाग में रविवार की छुट्टी होने के कारण विद्यालय बंद था, इसी कारण लालबाग पानी टंकी के पास रहने वाले लालजी सोनकर का 12 वर्षीय पुत्र सर्वेश सोनकर व उसका भाई 14 वर्षीय दुर्गेश सोनकर तथा दो अन्य बच्चे परिसर में स्थित शौंचालय के पास खेल रहे थे। सर्वेश सोनकर जो सहारा पब्लिक स्कूल लालबाग का कक्षा 8 का विद्यार्थी है शौंचालय की छत पर चढ़ा हुआ था तथा उसका भाई दुर्गेश सोनकर व दो अन्य बच्चे छज्जे के नीचे खेल रहे थे।

ये भी पढ़ें-गृहमंत्री राजनाथ सिंह का लखनऊ दौरा, शहर को देंगे दो बड़ी सौगात

मानक विहीन निर्मित कराया गया शौंचालय का छज्जा बरसात से भीगने के कारण अचानक भरभराकर ढ़ह गया। छत पर चढ़ा सर्वेश सोनकर तथा नीचे खेल रहे तीनों बच्चे मलबे की चपेट में आ गये। छज्जा गिरने की आवाज सुनकर आस पाड़ोस के लोग दौड़े तो मलबे के नीचे दबे दुर्गेश सोनकर तथा अन्य दोनों बच्चों को बाहर निकाला। सर्वेश सोनकर अचेत था तथा दुर्गेश गम्भीर रूप से घायल था

इन दोनों को तत्काल परिवारीजन व मोहल्लावासी लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे जहां मौजूद चिकित्सक ने 12 वर्षीय छात्र सर्वेश सोनकर को मृत घोषित कर दिया। दुर्गेश सोनकर गम्भीर रूप से घायल था इसलिए चिकित्सालय में भर्ती कर उसका इलाज किया जा रहा है। जो अन्य दोनों बच्चे इस हादसे में मामूली रूप से घायल हुए थे उनका प्राथमिक उपचार कर घर जाने दिया गया।

ये भी पढ़ें-गाजियाबाद, नोएडा में सीएनजी के दाम बढ़े, जाने कितने रुपए की हुई बढ़ोत्तरी

मोहल्लेवासियों का कहना है कि शौंचालय का निर्माण जब कराया जा रहा था तो मानक को लेकर इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की गयी थी। छत निर्माण में भी मानक के अनुरूप सीमेंट आदि नहीं लगाया जा रहा था परन्तु शिकायत के बावजूद उच्चाधिकारियों ने विद्यालय की प्रधानाध्यापिका के विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं किया था नतीजतन रविवार को जर्जर शौंचालय की छत अचानक ढ़ह गयी जिसमें एक छात्र की जहां मौत हो गयी वहीं उसका भाई गम्भीर रूप से घायल है और जीवन मृत्यु के मध्य जिला चिकित्सालय में संघर्ष कर रहा है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top