लखनऊ का ‘रयान’ कांड : ‘छोटे बाल और स्कर्ट वाली लड़की ने मुझे चाकू से मारा है’

Deepanshu MishraDeepanshu Mishra   18 Jan 2018 7:38 PM GMT

लखनऊ का ‘रयान’ कांड : ‘छोटे बाल और स्कर्ट वाली लड़की ने मुझे चाकू से मारा है’गंभीर रूप से घायल छात्र रितिक

लखनऊ। “एक लड़की थी, जो स्कर्ट पहने थी। उसने मुझे बाथरूम में बंद करके पहले ऐसे ही मारा । उसके बाद चाक़ू से मारा। मुझे मारने के बाद वह बाथरूम में बंद करके बाहर चली गई। उसके बाल कटे हुए थे। अगर वो लड़की मेरे सामने आएगी तो मैं उसे पहचान लूंगा।” रितिक कुमार शर्मा ने बताया।

लखनऊ के थाना अलीगंज के त्रिवेणीनगर में स्थित ब्राइटलैंड इंटर कॉलेज में पहली कक्षा में पढ़ने वाले रितिक कुमार शर्मा (छह वर्ष) को बीते मंगलवार चाकू स्कूल में ही चाकू से मारकर घायल कर दिया। बच्चा गंभीर रूप से घायल है। मामला बुधवार को तब सामने आया जब बच्चे की हालत बिगड़ गई। स्कूल प्रशासन ने बात को दबाने की कोशिश की। एफआईआर बुधवार शाम तक नहीं लिखी जा पायी थी।

बच्चे के पिता राजेश कुमार शर्मा (40) ने बताया “मैं बच्चे को सुबह 9:30 छोड़ कर अपने हाईकोर्ट चला गया। लगभग 12 बजे मेरे पास फ़ोन आया कि आपके बच्चे को चोट लग गई है। हाईकोर्ट काफी दूरी पर है। इसलिए मैंने अपनी पत्नी को बोला कि वो स्कूल पहुंचे, बच्चे को चोट लग गई है। मेरी पत्नी स्कूल पहुंच गई लेकिन तब तक बच्चे को पास के ही देवकी अस्पताल ले जाया जा चुका था। पत्नी स्कूल में ही मेरा इंतजार कर रही थी।

ये भी पढ़ें- लखनऊ में सामने आया रेयान जैसा मामला, कक्षा एक के छात्र को चाकू मार बाथरूम में किया बंद

वो आगे कहते हैं “मैं जब स्कूल पहुंचा तो वहां की प्रिंसिपल ने हम दोनों को अपनी गाड़ी में बैठाया और बताया कि बच्चे की हालत ज्यादा खराब है उसे मेडिकल कॉलेज में ले जाया जा चुका है। हम मेडिकल कॉलेज पहुंचे और बच्चे से मिले, लेकिन उसकी हालत सही नहीं है। स्कूल के लोगों ने मुझे एफआईआर लिखवाने से मना किया है और बोला है हम खुद लिखवा लेंगे।

हालत में जब थोड़ा सुधार हुअा तो रितिक ने “एक लड़की थी, जो स्कर्ट पहने थी, उसके बाल छोटे-छोटे थे। वो मुझे बाथरूम में ले गई। बाथरूम को अंदर से बंद कर लिया। मुझे मारने लगी।मैं बहुत डर रहा था। मुझे मारने के बाद उसने बाथरूम में बंद कर दिया और बाहर चली गई। थोड़ी देर बाद लड़की फिर अंदर आ गई चाकू लेकर, मुझे चाकू मारने लगी। चाक़ू से मारने के बाद उसने मेरे गले पर एक कपड़े से बाँधा और उसके बाद छोड़ दिया। उसने मेरे हाथ को बाँध दिया। मुझे अंदर छोड़ कर बाथरूम में बंद करके चली गई। मैं अंदर चिल्लाता रह गया।”

ये भी पढ़ें:- कहीं आपका बच्चा हिंसात्मक तो नहीं हो रहा, ऐसे रखें नजर

स्कूल के अनुशासन प्रभारी अमित चौहान ने बताया, ''सुबह प्रेयर हो रही थी। मैं हमेशा की तरह स्कूल के राउंड पर निकला और दूसरी मंजिल पर बाथरूम में से किसी की आवाज़ आ रही थी। मैं ये देखने अंदर चला गया। बाथरूम से बच्चे की आवाज़ आ रही थी। मैंने तुरंत दरवाजा खोला तो खून से लथपथ बच्चा वहां पड़ा था। मैंने तुरंत बच्चे को उठाया और उसे अस्पताल लेकर गया। वहां से जवाब मिल गया और मैं बच्चे को लेकिर मेडिकल कॉलेज चला गया। इतना समय नहीं मिला कि एफआईआर कराई जा सके। बच्चे के हिसाब से स्कर्ट वाली लड़की ने उसे मारा है। इसलिए लड़की आठवीं कक्षा से ऊपर की नहीं होगी क्योंकि स्कूल में आठवीं कक्षा तक ही लड़कियां स्कर्ट पहनकर आती हैं।”

एसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र ने बताया “बच्चा बोल रहा है कि वो उसको पहचान सकता है जिसने उसके ऊपर हमला किया है। स्कूल एफआईआर लिखवा रहा है। कल एफआईआर क्यों नहीं लिखवाई गई है इसके लिए स्कूल से पूछताछ की जाएगी।”

ये भी पढ़ें:- ‘हिंसा के शिकार बच्चों के स्कूल छोड़ने की संभावना होती है अधिक’

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top