जिलाधिकारी ने 500 ग्राम प्रधानों को दिखाई टॉयलेट फिल्म

जिलाधिकारी ने 500 ग्राम प्रधानों को दिखाई टॉयलेट फिल्मइलाहाबाद में फिल्म देखते ग्राम प्रधान।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

इलाहाबाद। कहा जाता है कि फ़िल्में समाज का आइना होती हैं। आज के दौर में फ़िल्में संदेश देने का अच्छा माध्यम साबित हो रही हैं। स्वच्छता अभियान को आगे बढ़ाने के लिए जिलाधिकारी संजय कुमार ने इसी माध्यम का उपयोग किया है। जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद के सभी ब्लाकों से आए ग्राम प्रधानों को राजकरन पैलेस में टॉयलेट-एक प्रेमकथा दिखाई गई। जिलाधिकारी की इस पहल का मकसद जनपद के ग्रामीण अंचलों में शौचालय बनवाने तथा उसके उपयोग के लिए ग्रामीणों को प्रेरित करना है। इस फिल्म को देखने के लिए 500 ग्राम प्रधानों के साथ ही 100 ग्रामीण भी उपस्थित थे। फिल्म देखने के बाद ग्राम प्रधानों ने गाँव को स्वच्छ करने तथा घर-घर में शौचालय बनवाने का संकल्प लिया।

इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा, “इस फिल्म से ग्राम प्रधानों को गाँवों में शौचालय बनवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। ओडीएफ हुए 122 ग्राम पंचायतों के अतिरिक्त भी अन्य गाँवों के ग्राम प्रधान भी फिल्म देखने आए थे। 122 ग्राम पंचायतें चयनित हुई थीं लेकिन भविष्य में पूरे जनपद को खुले में शौच मुक्त करना है।”

जिलाधिकारी ने कहा कि इससे ग्रामीण क्षेत्रों में गंदगी नहीं होगी तथा संक्रमित बीमारियों से बचाव भी होगा। उन्होंने कहा कि गंदगी के कारण ग्रमीण क्षेत्रों में डायरिया, फ्लू, डेंगू इत्यादि संक्रमित बीमारियां फैलती हैं, जिससे बच्चों के जीवन पर संकट आ जाता है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि गाँव स्वच्छ रहे तभी इन बीमारियों से छूटकारा पाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि शौचालय बन जाने से महिलाओं को भी सम्मान मिलेगा। फिल्म देखने के बाद कोरावं के ग्राम प्रधान राम बहादुर ने कहा, “इस फिल्म में शौचालय बनवाने के लिए प्रेरित किया है और वे अपने क्षेत्र के अलावा अन्य क्षेत्रों के लोगों को भी शौचालय बनवाने के लिए कहेंगे।” धनूपुर के ग्राम प्रधान कमलेश तथा अवधेश मिश्रा ने कहा, “फिल्म ने बहुत ही रोचक तरीके से शौचालय निर्माण के लिए प्रेरित किया।” प्रतापपुर से आये ग्राम प्रधान साधु शरण उपाध्याय ने कहा, “महिलाओं के सम्मान के लिए जरूरी है कि घर-घर में शौचालय बने।”

विकास खण्ड माण्डा से ग्राम प्रधान गिरीजा शंकर पाण्डेय ने कहा, “हम सभी ने निर्णय लिया है कि जहां शौचालय नहीं बना है वहां जाकर इसकी उपयोगिता को बताएंगे।” इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सैमुअल पाल एन, जिला पंचायत राज अधिकारी दुर्गा प्रसाद तिवारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों ने ग्राम प्रधानों को स्वच्छता का संदेश भी दिया।

गाँवों में स्वच्छता अभियान में तेज़ी लाने के लिए ग्राम प्रधानों में को प्रेरणादायी फ़िल्म दिखाई गई। इसका बहुत अच्छा प्रभाव भविष्य में नज़र आएगा।
दुर्गा प्रसाद तिवारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, इलाहाबाद

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top