नेपाल से लगातार छोड़े जा रहे घाघरा नदी में पानी से बाराबंकी के हाल हो रहे बेहाल 

नेपाल से लगातार छोड़े जा रहे घाघरा नदी में पानी से बाराबंकी के हाल हो रहे बेहाल बाराबंकी के एक गांव का हाल (फोटो साभार : गांव कनेक्शन)

बाराबंकी। यूपी के बाराबंकी जिले में घाघरा नदी में बढ़ते जलस्तर से लगातार हालात बिगड़ते जा रहे हैं। दरअसल नेपाल द्वारा बाराबंकी और गोंडा सीमा से गुजरने वाली घाघरा नदी में पहाड़ों पर हो रही बारिश का पानी छोड़ा जा रहा है। इसके बाद लगातार घाघरा नदी खतरे के निशान से लगभग 20 सेमी ऊपर बह रही है।

ये भी पढ़ें- नेपाल से नौ लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद घाघरा नदी के बिगड़े हालात

बातचीत के दौरान बाराबंकी के जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने बताया, ‘सुरक्षा और बाढ़ पीड़ितों के लिए जिला प्रशासन पूरी तैयारी से उनकी मदद कर रहा है लेकिन सच्चाई ये है कि तहसील सिरौली गौसपुर के नाउन पुरवा, चरपुरवा, नयापुरवा, बेहटा व रायपुर मांझा गांवों में बाढ़ का पानी और बढ़ गया है। इन गांवों के लोग भले ही बंधे पर गुजर बसर कर रहे हो लेकिन इनके और इनके जानवरों के लिए मुश्किलें हैं।’

ये भी पढ़ें- घाघरा नदी में धड़ल्ले हो रहा अवैध बालू खनन

एक तरफ जहां बाढ़ पीड़ितों के लिए एक वक्त की रोटी का जुगाड़ करना मुश्किल हो रहा है वहीं बंधे पर लगी घास भी अब नहीं बची है जिससे जानवरों के लिए चारे की व्यवस्था भी नहीं हो पा रही है। इन गांवों में सड़कों पर कई फीट ऊपर तक पानी भरने से लोगों को आवागमन में काफी दिक्कते आ रही हैं। उधर रामनगर तहसील के जमका खुज्जी, व कंचना पुर और तहसील सिरौलीगौसपुर के मलदहा ,अतसुईया, कोठरी गोरिया, सहित दर्जनों गांवों में कटान तेज हो गई है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top