हाजिरी पर प्रेजेंट न बोलने पर टीचर ने बच्चे को जड़े 40 थप्पड़

हाजिरी पर प्रेजेंट न बोलने पर टीचर ने बच्चे को जड़े 40 थप्पड़लखनऊ के निजी स्कूल की घटना कैमरे में कैद।

लखनऊ (भाषा)। लखनऊ के पीजीआई इलाके के जॉन विनी स्कूल की शिक्षिका ने तीसरी कक्षा के छात्र को कथित रुप से हाजिरी नहीं देने पर कम से कम 40 बार बेदर्दी से थप्पड़ जड़ दिया। शिक्षिका के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि बच्चे को थप्पड़ मारने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। बच्चे ने बताया कि जिस समय हाजिरी ली जा रही थी, वह ड्राइंग बनाने में लगा हुआ था इसलिए हाजिरी के समय उपस्थिति के लिए 'प्रेजेंट ' नहीं बोला सका था।

कल स्कूल से घर लौटने पर छात्र के माता पिता ने उसके चेहरे पर सूजन देखा था। बच्चे का चेहरा लाल था और वह बहुत बुझा बुझा सा था। माता पिता ने जब छात्र के दोस्तों से इस बारे में पूछताछ की तो पता चला कि क्लास टीचर ने छात्र को बुरी तरह पीटा और दो मिनट में ही उसे 40 थप्पड़ जड़ दिये।

सीसीटीवी में कैद हुई घटना

बुधवार सुबह प्रवेंद्र स्कूल जाकर प्रिंसिपल रोनाल्ड रोड्रिग्स से मिले। उन्होंने इसकी शिकायत की और बेटे की क्लास में लगे सीसीटीवी कैमरे चेक करने को कहा तो प्रिंसिपल ने फुटेज निकलवा लिए। फुटेज देखते ही प्रवेंद्र और प्रिंसिपल के होश उड़ गए। फुटेज में सातवें पीरियड में क्लास में अटेंडेंस लेने आई टीचर रेटिका बच्चे की बेरहमी से पिटाई करती हुई नजर आईं।

रितेश ने बताया कि टीचर जब अटेंडेंस ले रही थीं तब मैं ड्राइंग बनाने में खो गया था। इसलिए जब मेरा रोल नंबर पुकारा गया तो ध्यान नहीं दे सका। ‘प्रजेंट मैम’ नहीं बोल पाने पर टीचर ने पूरी क्लास के सामने उसे अपमानित और प्रताड़ित किया।

ये भी पढ़ें:उत्तर प्रदेश : 10 जिलों के परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों ने बदल दी अपने स्कूल की तस्वीर

परेशान माता पिता प्रिंसिपल से मिले, जिन्होंने सीसीटीवी फुटेज जांचा। फुटेज में शिक्षिका रितिका वी जॉन बच्चे को बेदर्दी से थप्पड़ मारती और उसे घसीटती नजर आ रही थी।

बहरहाल प्रिंसिपल ने शिक्षिका को तलब किया, जिसने अपने कृत्य के लिये उनसे माफी मांगी। प्रिंसिपल ने बच्चे के माता पिता को आश्वासन दिया कि शिक्षिका को निष्कासित किया जा रहा है।बच्चे के पिता प्रवेन्द्र गुप्ता की शिकायत पर आज पीजीआई थाने में मामला दर्ज किया गया। थाना प्रभारी बृजेश राय ने इसकी पुष्टि की।

ये भी पढ़ें: रोज जान पर खेल कर स्कूल पहुंचते हैं जम्मू के ये बच्चे ... देखिए वीडियो

Share it
Top