पेड़ों का अवैध कटान हर हाल में बंद हो : उपेंद्र 

पेड़ों का अवैध कटान हर हाल में बंद हो : उपेंद्र निर्माणाधीन चिडिय़ा घर का औचक निरीक्षण किया।

जितेंद्र तिवारी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

गोरखपुर। प्रदेश के वन एवं पर्यावरण, जन्तु उद्यान, उद्यान एवं सहकारिता विभाग राज्य मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने सर्किट हाउस सभागार में गोरखपुर मंडल के विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने वन विभाग द्वारा कराए गए पौधरोपण पर कहा कि जिन स्थानों पर पौधरोपण किया गया है उनकी सूची उपलब्ध कराई जाये साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाये कि जो पौधे लगाये गये हैं वे सुरक्षित रहें।

उन्होंने पेड़ों की अवैध कटान की शिकायत पर निर्देश दिया कि कही भी अवैध कटान न हो तथा अवैध कटान रोकने के लिए अभी तक की गई की रिपोर्ट मांगी। उन्होंने सभी डीएफओ को सचेत किया कि वे लगातार हो रहे अवैध कटान पर निगरानी रखें और दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करें। उन्होंने उद्यान विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए उप निदेशक उद्यान के कार्यों पर असंतोष व्यक्त किया तथा निर्देश दिया कि उद्यान विभाग द्वारा आयोजित होने वाली गोष्ठियों को ब्लॉक स्तर पर भी आयोजित की जाएं।

भूमि संरक्षण एंव जल संसाधन विभाग एवं सहकारिता विभाग तथा प्रदूषण विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि भूमि विकास विभाग द्वारा योजनाओं को बरसात के बाद आरम्भ किया जाये। उन्होंने प्रदूषण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि अवैध रूप से जो भी कल कारखाने संचालित हैं उनकी जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएं। इसके अलावा सहकारिता विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी समितियों को क्रियाशील किया जाये तथा धान खरीद के लिए अभी से तैयारी आरम्भ कर दी जाये।

निर्माणाधीन चिडिय़ाघर का किया निरीक्षण

प्रदेश के वन एवं पर्यावरण, जन्तु उद्यान, उद्यान एवं सहकारिता विभाग राज्य मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने निर्माणाधीन चिडिय़ा घर का औचक निरीक्षण किया। यहां पर निर्माण कार्यों के बारे में जानकारी ली और अभी तक हुए कार्यों पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा,“ इन कार्यों की एसआईटी से जांच कराकर दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने अभी तक उपलब्ध बजट के अनुसार मौके पर कार्य न होने पर कार्यदायी संस्था पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्य को निर्धारित समय सीमा के अन्दर पूर्ण कराने का निर्देश दिया।” उन्होंने आगे कहा,“ कार्य मानक के अनुरूप तथा गुणवत्ता परक ढंग से होने चाहिए इसमें किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जायेगा। ”

बागवानी के क्षेत्र में हैं आपार संभावनाएं

किसानों को बागवानी के प्रति आकर्षित करना काफी जरूरी है, इस क्षेत्र में काफी संभावनाएं है। यहां पर किसानों को अनुदान भी मिलता है। यह बातें प्रदेश के वन एवं पर्यावरण, जन्तु उद्यान, उद्यान एवं सहकारिता विभाग राज्य मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने प्रेसवार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा,“ उद्यान विभाग को ब्लॉक स्तर पर गोष्ठी आयोजित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कहा कि किसानों को हित में जो भी बेहतर निर्णय होगा लिया जाएगा। किसानों को आम, अमरूद, केला के अलावा फल, फूल व सब्जियों की खेती के प्रति आकर्षित किया जाएगा। ताकि इस क्षेत्र से भी उन्हें बेहतर आमदनी हो सके। ”निर्माणाधीन चिडिय़ा घर का औचक निरीक्षण किया

Share it
Top