कन्नौज में बनेगा परफ्यूम पार्क

कन्नौज में बनेगा परफ्यूम पार्क

सांसद डिम्पल यादव ने की इत्र के इतिहास बताने वाले म्यूजि़यम बनवाने की घोषणा, 100 एकड़ भूमि पर होगी स्थापना

कन्नौज। सपा सांसद डिंपल यादव के संसदीय क्षेत्र कन्नौज में परफ्यूम पार्क बनाने का फैसला हुआ है। इस पार्क की स्थापना करीब 100 एकड़ भूमि पर की जाएगी।

उत्तर प्रदेश औद्योगिक विकास निगम (यूपीएसआईडीसी) प्रबंधन इसके लिए डीपीआर यानि विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करवा रहा है। साथ ही ज़मीन की तलाश भी शुरू हो गई है। यहां एक म्यूजि़यम भी बनाया जाएगा जिसमें कन्नौज के इत्र उद्योग का इतिहास प्रदर्शित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश की सुगंध नगरी कन्नौज में परंपरागत परफ्यूम इंडस्ट्री को विकसित करने के लिये तीन घोषणाएं की हैं। इनके जरिए यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कन्नौज को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर वह पहचान मिले, जिसका वह हकदार है। परंपरागत परफ्यूम इंडस्ट्री को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलने से बेरोजगार युवको को बड़ी संख्या में रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे।

यूपीएसआईडीसी के प्रबंध निदेशक मनोज सिंह ने बताया, ''आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बनने वाले परफ्यूम पार्क के लिए फ्रांस से भी सहयोग मिल रहा है। वहां ग्रासे शहर जो विश्व का परफ्यूम कैपिटल माना जाता है और वहीं के विशेषज्ञ परफ्यूम पार्क के लिए तकनीकी सहायता देंगे।"

इसका निर्माण दो चरणों में 50 एकड़ भूमि के हिस्से पर  विकसित किया जाएगा। यहां इत्र निर्माण से जुड़ी सभी जानकारियां दी जाएंगी। साथ ही रिसर्च और डेवलपमेंट के लिए खास लैब भी बनाई जाएगी। यह लैब परफ्यूम पार्क में उद्योग स्थापित करने वालों की सहायता करेगी। इस पार्क की ही बीस एकड़ भूमि पर सुगंध वाले विभिन्न पौधे लगाए जाएंगे। इसमें कई ऐसे पौधे भी शामिल होंगे हैं जो विदेश से लाए जाएंगे। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर होने से इसे एक टूरिस्ट स्पॉट की तरह भी विकसित किया जाएगा।

प्रबंध निदेशक ने बताया, ''कन्नौज के प्राचीन इत्र उद्योग की जानकारी देने के मकसद से एक म्यूजि़यम बनाया जाएगा, जो पर्यटकों के लिए खास होगा। पार्क में पर्यटकों के लिए एक होटल भी बनेगा। कानपुर के क्षेत्रीय प्रबंधक को परफ्यूम पार्क के लिए जमीन तलाशने को कहा गया है। यहां लगभग दो सौ करोड़ रुपये के निवेश की उम्मीद है।"

2017 का चुनाव कन्नौज से लड़ेंगे अखिलेश यादव

सीएम अखिलेश यादव अपना पहला विधानसभा चुनाव 2017 में कन्नौज से लड़ेंगे। इसका संकेत देते हुए कन्नौज की सांसद डिंपल यादव ने कहा, ''कन्नौज तो मुख्यमंत्री जी के दिल में बसता है। कन्नौज ने मुझे मौका दिया लोगों के लिए काम करने का यह भूमि मुख्यमंत्री के लिए कर्मभूमि रही है और रहेगी। मुख्यमंत्री कन्नौज से ही 2017 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।" एक सभा को संबोधित करते हुए डिंपल ने कहा। अखिलेश मार्च 2012 तक कन्नौज से सांसद रहे हैं। उन्होंने यह सीट सूबे के सबसे युवा मुख्यमंत्री बनने के बाद खाली कर दी थी। उसके बाद यह सीट उनकी पत्नी ने उपचुनाव में जीती थी। साल 2012 के विधानसभा चुनावों में पार्टी ने यहां की सभी तीनों सीट कन्नौज, सदर तिरवा और छिबरामऊ में जीत हासिल की थी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top