गाय-भैंस के पेट में फंसे बच्चे को निकालेगा यह यंत्र

बरेली। कई बार गाय-भैंस के पेट में बच्चे फंस जाते हैं, जिससे पशुओं को काफी दिक्कत होती है। ऐसे में कभी-कभी तो बच्चे मर भी जाते हैं। इस समस्या को हल करने के लिए भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (IVRI) ने ऐसे यंत्र तैयार किए है जिसकी मदद से गाय-भैंस के पेट में फंसे बच्चों को आसानी से निकाला जा सकता है।

बच्चा निकालने के लिए फीटल एक्सट्रैक्टर, फीटल ल्यूब्रीकेटर इन दो यंत्रों को तैयार किया गया है। आईवीआरआई के पशु प्रजनन विभाग के प्रधान वैज्ञानिक डॉ. एस. के. घोष बताते हैं, "कई बार बच्चे को मुंह बच्चेदानी के सामने आ जाता है और उसको निकालने में दिक्कत होती है। इसलिए हम लोगों ने फीटल एक्सट्रेक्टर यंत्र बनाया है। इसमें यंत्र के दो भाग है जिसे बच्चे की गर्दन में लगाकर फिट करना होता है। बच्चा निकलाने के लिए इस यंत्र को छोटा-बड़ा किया जा सकता है और जब यह पूरी तरह फिक्स हो जाए तो बच्चे का मुंह नहीं हिलता और आसानी से बच्चे को निकालना जा सकता है।"


यह भी पढ़़ें- यह यंत्र बताएगा गाय-भैंस के कृत्रिम गर्भाधान का सही समय

पशुचिकित्सकों के सामने कई बार ऐसे में मामले सामने आते है। इस यंत्र की मदद से अब इस समस्या से निजात मिलेगा। पशुपालक इन यंत्रों को प्रयोग करने से पहले प्रशिक्षण ले ले ताकि बच्चा निकालते समय पशु को किसी भी प्रकार का घाव न हो।

दूसरे यंत्र फीटल ल्यूब्रीकेटर के बारे में जानकारी देते हुए डॉ घोष बताते हैं, "जब बच्चा फंस जाता है तो अंदर सूख जाता है, जिससे बच्चे को निकालना मुश्किल हो जाता है पशु को घाव भी हो जाते हैं। ऐसे में ल्यूब्रीकेशन(चिकनाई) की बहुत जरुरत होती है इसी वजह से यह यंत्र बनाया गया है।"

यह भी पढ‍़ें- इन यंत्रों की मदद से पशुपालक जान सकेंगे पशुओं के मदकाल की स्थिति


इस यंत्र की मदद से अपने हिसाब से अंदर जितना ल्यूब्रीकेटर की जरुरत होती है उतनी पाइप के द्वारा डाला जा सकता है। इसमें बच्चादानी और बच्चे दोनों ल्यूब्रीकेट हो जाते हैं तो जब बच्चे को खिंचा जाता है तो वह आसानी से निकला आता है। पहले ऐसा होने पर थोड़ा-थोड़ा ल्यूब्रीकेट किया जा सकता था लेकिन इसकी मदद से अंदर पाइप डालकर ल्यूब्रीकेट किया जा सकता है।

इस यंत्र की जानकारी या प्रशिक्षण के लिए आईवीआरआई के पशु प्रजनन विभाग में संपर्क भी कर सकते हैं:

डॉ. एस. के. घोष

9411900182

Share it
Top