इन फोन नंबरों के साथ करिये सुरक्षित रेल यात्रा

Mohit AsthanaMohit Asthana   18 Sep 2018 5:08 AM GMT

इन फोन नंबरों के साथ करिये सुरक्षित रेल यात्राभारतीय रेल।

लखनऊ। अक्सर रेल में यात्रा के दौरान हमें कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सफर के दौरान आपका सामान चोरी हो जाये, आपको मेडिकल की जरूरत हो या फिर आपका कोच गंदा हो इन सारी परेशानियों के लिये आप किसी भी रेल के कर्मचारी से मदद नहीं ले पाते है। लेकिन आप रेलवे के फोन नंबरों की मदद से तुरंत सहायता प्राप्त कर सकते है।

बस आपको ये जानकारी होनी चाहिये कि किस नंबर पर कॉल करना है या किस नंबर पर एसएमएस करना है। इतना ही नहीं अगर आपकी समस्या को न सुना जा रहा हो तो आप सीधा रेल मंत्रालय को भी ट्विट कर सकते हैं। हम आपको बताने जा रहे हैं रेलवे के ऐसे आठ नंबर जिनकी मदद से आपको तुरंत सहायता मिल सकती है।

ये भी पढ़ें- पासपोर्ट बनवाना हुआ और आसान, जरूरी नहीं होगा पुलिस वेरिफिकेशन, यह रहेगी नई व्यवस्था

सामान चोरी होने पर

अगर सफर के दौरान आपका सामान चोरी हो गया है या किसी से झगड़ा हो गया है। इस स्थिति में आप 182 पर या 1800111322 पर कॉल करके मदद ले सकते हैं।

तबियत बिगड़ने पर करें कॉल

अगर सफर के दौरान आपकी या आपके आस-पास किसी की तबियत खराब हो रही है या साफ- सफाई की समस्या है तो आप 138 पर कॉल करके मदद ले सकते हैं।

लें जीआरपी की मदद

अगर आप सफर के दौरान उत्तर प्रदेश में हैं और आपके साथ कोई घटना घटित हो गई है तो आप 1512 पर कॉल करके मदद ले सकते हैं।

ऑल इंडिया जीआरपी नंबर

अगर आपके साथ सफर के दौरान देश के किसी भी राज्य में कोई भी अपराध घटता है तो आप 9833331111 पर फोन लगा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल: स्लीपर क्लास में 40 किलो से ज्यादा सामान लेकर करेंगे यात्रा, तो हो सकता है जुर्माना

अपने कोच की सफाई के लिये करें इस नंबर पर फोन

अगर यात्रा के दौरान आपके कोच में गंदगी है तो आप 58888 पर फोन लगा कर कोच को साफ करवा सकते हैं।

खराब खाना मिलने पर कर सकते हैं शिकायत

अगर यात्रा के दौरान आपको मिलने वाले खाने की क्वालिटी खराब है या वेंडर आप से ज्यादा पैसे वसूल रहा है तो आप 1800111321 पर फोन करके शिकायत कर सकते हैं।

पीएनआर चेक करने के लिये डायल करें ये नंबर

अगर आप सफर करने जा रहे है और आपको अपने पीएनआर नंबर की स्टेटस पता करनी है या फिर ट्रेन के आने-जाने का समय पता करना है तो 139 पर कॅाल करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें-आश्चर्य ! आज भी भारत का ये रेलवे ट्रैक ब्रिटेन के कब्जे में है, हर साल देनी पड़ती है रॉयल्टी

रेलमंत्रालय को करें ट्विट

सफर के दौरान अगर इन नंबरों से कोई मदद न मिले या काई और समस्या या सुझाव हो तो आप सीधे रेल मंत्रालय को @RailMin पर ट्विट कर सकते है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top