Top

अगर आप के पास सोशल मीडिया अकाउंट वैरीफाई कराने के ऐसे मैसेज आएं तो हो जाइए सावधान

Mohit AsthanaMohit Asthana   22 Sep 2017 5:45 PM GMT

अगर आप के पास सोशल मीडिया अकाउंट वैरीफाई कराने के ऐसे मैसेज आएं तो हो जाइए सावधानप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। सभी टॉप सोशल मीडिया साइट कुछ विशेष अकाउंट को वैरिफाई करती हैं और इनकी पहचान ब्लू टिक के जरिए होती है। ज्यादातर वेबसाइट जिन यूजर्स के अकाउंट वेरिफाई करती हैं, उन्हें सेलिब्रिटी या ब्रांड के तौर पर देखा जाता है। हालांकि इन दिनों अकाउंट वेरिफाई कराने के नाम पर कुछ कंपनियां यूजर्स से मोटी रकम वसूल रही हैं।

ऐसे होता है अकाउंट वेरिफाई

आमतौर पर अकाउंट को वेरिफाई सोशल मीडिया कंपनियां करती हैं और इसमें किसी तरह का कोई पैसा नहीं लिया जाता है। अकाउंट वेरिफाई कराने के लिए यूजर को उस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से रिक्वेस्ट करना होता है। जिसके बाद कंपनी अपने प्रोटोकॉल फॉलो करती है और इसके बाद यूजर को पॉलिसी रूल्स के अंदर ब्लू टिक दिया जाता है।

ये भी पढ़ें- बड़े काम के होते हैं खरपतवार, अपनी आय बढ़ा सकते हैं किसान

पैसे लेकर अकाउंट वेरिफाई

अंग्रेजी वेबसाइट Mashable की रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर अकाउंट पर ब्लू टिक के लिए यूजर्स से पैसे लिए जा रहे हैं। ये काम कई वेबसाइट्स कर रही हैं और यूजर्स से इसके बदले भारी रकम वसूल कर रही है।

ट्विटर के लिए देने होंगे एक लाख

इन कंपनियों के जरिए अकाउंट वेरिफाई कराने की शरूआती कीमत करीब 96,172 रुपए होती है। वहीं इंस्टाग्राम अकाउंट वेरिफाइड करने के लिए अधिकतम करीब 3,84,693 रुपए लिए जा रहे हैं। ट्विटर अकाउंट वेरिफिकेशन की कीमत 1,60,293 रुपए है।

सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक, ये गैरकानूनी वेबसाइट्स हैं, जो पैसे लेकर ऐसा कर रही हैं। इन वेबसाइट्स के जरिए यूजर्स को ब्लू टिक के लिए डायरेक्ट मैसेज भेजे जा रहे हैं। भेजे गए मैसेज में दावा किया जा रहा है इंस्टाग्राम में उनकी जान पहचान है और वे अकाउंट वेरिफाइ करा सकते हैं। अजीब बात ये है कि लोग ब्लू टिक पाने के लिए पैसे देने को तैयार भी हैं।

ये भी पढ़ें- 25 लाख तक का बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार से ले सकते हैं लोन, ये हैं तरीके

सोशल साइट की तरफ से नहीं आया कोई बयान- बता दें कि ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम तीनों ही वेबसाइट यूजर्स का अकाउंट वेरिफाई करती हैं, लेकिन इंस्टाग्राम अकाउंट को वेरिफाइ करना बाकी सोशल मीडिया अकाउंट के मुकाबले मुश्किल होता है। इसलिए ये कंपनियां इसके लिए ज्यादा पैसे ले रही हैं। इंस्टाग्राम पर वेरिफिकेशन के लिए एक फॉर्म भरना होता है, जो कि पब्लिकली नहीं मिलता है। फिलहाल किसी भी साइट ने अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.