खादी के बिजनेस में 2.50 लाख लगाकर पाएं 7.50 लाख का मुनाफा

खादी के बिजनेस में 2.50 लाख लगाकर पाएं 7.50 लाख का मुनाफाप्रतीकात्मक तस्वीर।

यदि आप खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो खादी गारमेंट बनाने वाली यूनिट शुरू कर अच्‍छा खासा बिजनेस जमा सकते हैं। इसके लिए आपको ज्‍यादा इन्‍वेस्‍टमेंट भी नहीं करना पड़ेगा। जानकारी के मुताबिक आपके पास यदि 2.50 लाख रुपए हैं तो भी आप खादी गारमेंट्स बनाने वाली यूनिट शुरू कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- जानिए क्या है स्टैंड अप इंडिया योजना, लोन के लिए ऐसे करें अप्लाई

यह दावा प्राइम मिनिस्‍टर इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी) के तहत मिनिस्‍ट्री ऑफ माइक्रो, स्‍मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (एमएसएमई) द्वारा तैयार की गई प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल रिपोर्ट में किया गया है। इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के आधार पर आप पीएमईजीपी के तहत मिलने वाले लोन के लिए भी अप्‍लाई कर सकते हैं। गौरतलब है कि पीएमईजीपी के तहत आप कुल प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट का 90 फीसदी लोन ले सकते हैं और सरकार आपको 30 फीसदी तक सब्सिडी भी दे रही है। इतना ही नहीं, आप खादी प्रोडक्‍ट बना कर सरकार के खादी आश्रम को भी सप्‍लाई कर सकते हैं। जिससे आपके लिए मार्केटिंग भी आसान हो जाएगी। बताते हैं कि आप कैसे खादी गारमेंट्स बनाने की यूनिट लगा कर पाएं मुनाफा...

25 लाख है प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट

पीएमईजीपी की यह प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट 16 हजार डिजाइनर खादी शर्ट की प्रोडक्‍शन कैपेसिटी का है। यानी कि आप यदि यह प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट तैयार करते हैं तो आप सालाना 16 हजार शर्ट बना सकते हैं। इसके लिए आपका कैपिटल एक्‍सपेंसेज लगभग 13 लाख रुपए आएगा, जिसमें किराये की वर्कशॉप के अलावा मशीनरी एवं इक्‍वीपमेंट (10 लाख रुपए) फि‍क्‍सड एसेट ( 1 लाख रुपए) शामिल हैं। जबकि 3 महीने की वर्किंग कैपिटल लगभग 12 लाख रुपए होगी। यानी कि 25 लाख रुपए में प्रोजेक्‍ट शुरू हो जाएगा और अगर आप पीएमईजीपी के तहत लोन लेते हैं तो आपको मार्जिन मनी के रूप में 10 फीसदी (2.50 लाख रुपए) का इंतजाम करना होगा। बाकी 90 फीसदी आपको बैंक से लोन मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें- 25 लाख तक का बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार से ले सकते हैं लोन, ये हैं तरीके

कितनी होगी कमाई

प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट बताती है कि यदि आप साल भर में 16 हजार शर्ट बनाते हैं तो इस हिसाब से आपका साल भर में लगभग 49 लाख रुपए का खर्च आएगा। इसके अलावा लोन पर ब्‍याज, डेप्रिशिएशन, रिपेयमेंट आदि का खर्च मिलाकर लगभग 57 लाख 80 हजार रुपए का खर्च आएगा और यदि आप एक शर्ट मात्र 400 रुपए की मार्केट में सप्‍लाई करते हैं तो आपकी कुल सेल्‍स लगभग 65 लाख 50 हजार रुपए की होगी। यानी कि आपको लगभग 7 लाख 50 हजार रुपए की इनकम होगी।

इन मशीनरी की होगी जरूरत

रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप ऐसी प्रोडक्‍शन यूनिट शुरू करना चाहते हैं तो आपको 25 स्पिंडल चरखा, 5 इम्‍प्रूवड लूम, 5 वीवर लूम, यार्न डाइंग, 5 निडल लॉक स्टिच, 1 ऑवर लॉकिंग मशीन, आटोमेटिक कटिंग मशीन आदि मीशनरी की जरूरत पड़ेगी, जिस पर लगभग 10 लाख 50 हजार रुपए का खर्च आएगा।

यह भी पढ़ें- बिना जीएसटी रजिस्ट्रेशन के दुकानदार नहीं ले सकता है आपसे टैक्स

जानिए, क्‍या है पूरी प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट अगर आप इस बिजनेस की पूरी प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के बारे में जानना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं। http://www.kvic.org.in/kvicres/update/pmegp/Khadi Cloth and Garment.pdf

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top