हर जाति, वर्ग, समुदाय के लिए काम करेंगे, विकास का नया ढांचा खड़ा करेंगे: योगी आदित्यनाथ 

हर जाति, वर्ग, समुदाय के लिए काम करेंगे, विकास का नया ढांचा खड़ा करेंगे: योगी आदित्यनाथ लोकसभा में बोलते उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी।

नई दिल्ली (भाषा)। हिन्दुत्व की कट्टर छवि को लेकर कुछ वर्गो द्वारा व्यक्त आशंकाओं को सिरे से खारिज करते हुए उत्तरप्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार ‘‘सबका साथ, सबका विकास'' की प्रेरणा के साथ हर जाति, वर्ग, समुदाय और प्रत्येक क्षेत्र के विकास के लिए काम करेगी और प्रदेश के विकास का नया ढांचा खड़ा करेगी।

मुख्यमंत्री बनने के बाद वित्त विधेयक पर चर्चा में हिस्सा लेने आए गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्ष 2014 के चुनाव के दौरान तमाम तरह की बातें कहीं जा रही थी जब मोदीजी लोगों के पास जा रहे थे और जब देश एवं अर्थव्यवस्था के समक्ष उत्पन्न विकट परिस्थितियों में उन्होंने प्रधानमंत्री पद का दायित्व संभाला था। लेकिन सभी को साथ लेकर चलते हुए प्रधानमंत्री ने जिस तरह से अर्थव्यवस्था और देश के विकास को गति प्रदान करने का काम किया, वह दुनिया के समक्ष आदर्श है।

उन्होंने कहा कि मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम उत्तरप्रदेश को मोदी के सपनों का प्रदेश बनायेंगे। हम उत्तरप्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त, दंगों से मुक्त, गुंडागर्दी से मुक्त प्रदेश बनायेंगे और विकास का ऐसा मॉडल खडा करेंगे जिससे युवाओं को पलायन नहीं करना पड़े और महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार सबका साथ, सबका विकास की प्रेरणा के साथ हर जाति, वर्ग और समुदाय तथा प्रत्येक क्षेत्र के लिए काम करेगी और प्रदेश के विकास का नया ढांचा खड़ा करेगी। उन्होंने आश्वस्त किया कि गोरखपुर का सांसद चुने जाने के बाद पिछले डेढ..दो दशकों के दौरान वहां गुंडागर्दी की एक भी घटना नहीं हुई, व्यापारियों को गुंडा टैक्स नहीं देना पडा, अपहरण नहीं हुए, एक भी दंगा नहीं हुआ। हम पूरे उत्तरप्रदेश में ऐसी ही स्थिति बनाएंगे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार लोकसभा आने पर योगी आदित्यनाथ का सत्तारुढ़ पार्टी के सदस्यों ने मेज थपथपा कर स्वागत किया। योगी आदित्यनाथ करीब साढ़े चार बजे जब सदन में आए तो उस दौरान भाजपा के कुछ सदस्यों ने ‘जयश्रीराम' के नारे भी लगाए। कई सदस्यों ने अपने स्थान पर खड़े होकर उनका अभिभवादन किया। अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि आपका स्वागत है, आप उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री है, साथ-साथ इस सदन के सदस्य भी हैं। आदित्यनाथ ने कहा कि मेरी पार्टी ने उत्तरप्रदेश का दायित्व मुझे सौंपा है और प्रदेश की जनता ने जिस प्रकार का जनादेश दिया है। उसके बाद हम राज्य के विकास का नया ढांचा खड़ा करेंगे और सबका विकास सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने राज्य की पूर्ववर्ती सपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले ढाई वर्षों में मोदी सरकार ने उत्तरप्रदेश को 2.5 लाख करोड़ रुपए दिए लेकिन इन वर्षो में उस समय की प्रदेश सरकार ने सिर्फ 78 हजार करोड़ रुपए खर्च किए। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि उनके पास विकास का कोई ढांचा नहीं था।

ये भी पढ़ें- बाबरी मस्जिद की जमीन के लिए “नो शिफ्ट, नो गिफ्ट”

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करेंगे कि जो राशि विकास कार्यो में नहीं खर्च हो पायी है, उसे प्रभावी ढंग से खर्च किया जाए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुरू में ही स्पष्ट कर दिया था कि उनकी सरकार गरीबों के विकास को समर्पित है और इसके बाद से अब तक यह सुनिश्चित किया कि किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं हो। चाहे वह महिलाओं को रसोई गैस उपलब्ध कराने की उज्जवला योजना हो, चाहे जनधन खाता खेलने की योजना हो अथवा स्टार्टआप, स्टैंडअप और मुद्रा योजना ही क्यों न हो। उन्होंने कहा कि हम उत्तरप्रदेश को भी मोदी के सपनों का प्रदेश बनायेंगे। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मोदी सरकार के दौरान लोक कल्याण की योजनाओं में किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं हुआ।

ये भी देखें- दोनों डिप्टी सीएम के पास होंगे सबसे बड़े महकमे

पूर्वी उत्तरप्रदेश के पिछड़े होने का जिक्र करते हुए उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि देश का पूर्वी क्षेत्र विकास के पैमाने पर उपेक्षित रहा। पूर्वी उत्तरप्रदेश की भी यही स्थिति थी। गोरखपुर में उर्वरक संयंत्र बंद हो गया था। इस क्षेत्र के बच्चे इंसेफेलाइटिस से प्रभावित थे और इसमें खास तौर पर दलितों और अल्पसंख्यक वर्ग के बच्चे ज्यादा थे। उन्होंने कई बार संसद में इस विषय को उठाया। उन्होंने कहा कि मोदीजी ने गोरखपुर में एम्स देने का काम किया। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने गोरखपुर के अलावा सिंदरी और बरौनी में उर्वरक कारखानों को फिर से शुरु करने की दिशा में पहल की। योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा अध्यक्ष समेत सभी सदस्यों का सहयोग देने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने सभी सदस्यों को उत्तरप्रदेश आने का निमंत्रण भी दिया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-03-21 20:09:24.0

Share it
Share it
Share it
Top