Top

इस राज्य में किसानों के लिए बिजली कनेक्शन सिर्फ 05 रुपए में

एमपी मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की ओर से भोपाल और ग्वालियर क्षेत्र के किसानों को यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

Kushal MishraKushal Mishra   10 Jan 2020 12:31 PM GMT

इस राज्य में किसानों के लिए बिजली कनेक्शन सिर्फ 05 रुपए में

किसानों को अपने खेतों में सिंचाई की कोई मुश्किल न आए इसके लिए मध्य प्रदेश की बिजली कंपनी की ओर से किसानों को सिर्फ 05 रुपए में कृषि पंप के लिए बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराया जा रहा है।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की ओर से किसानों के लिए यह पहल की गई है और राज्य सरकार की मुख्यमंत्री स्थाई कृषि पंप योजना के जरिए किसानों को आवेदन फॉर्म भरकर जमा करने में स्थाई बिजली कनेक्शन का लाभ दिया जा रहा है।

पिछले साल दिसंबर माह में प्रदेश के मुरैना जिले में अब तक 976 किसान कनेक्शन का लाभ ले चुके हैं। वहीं इसी माह मध्य प्रदेश के दतिया जिले के सेवढ़ा संभाग में गांव देभई, थरेट, पड़री, भरोली, सालोन और विछौंदना में शिविर लगाकर 40 किसानों को पांच रुपए में बिजली कनेक्शन का लाभ दिया गया।

बिजली कंपनी के महाप्रबंधक आनंद श्रीवास्तव 'गांव कनेक्शन' से फोन पर बताते हैं, "यह कृषि पंप कनेक्शन उन किसानों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं जिन किसानों के खेत बिजली लाइन के पास हैं और कृषि पंप वर्तमान अधोसंरचना से 150 फीट के दायरे में आते हैं। अब ऐसे किसानों को सिंचाई के लिए फायदा मिल रहा है। इससे पहले किसान खेतों में सिंचाई के लिए हर बार अस्थायी रूप से कनेक्शन लेते थे जो किसानों के लिए महंगा साबित होता था।"


मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की ओर से भोपाल और ग्वालियर क्षेत्र के किसानों को यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। ऐसे में ये कनेक्शन भोपाल समेत सिहोर, विदिशा, राजगढ़, होशंगाबाद, बेतुल, रायसेन समेत ग्वालियर क्षेत्र के गुना, भिंड, मुरैना, शियोपुर, शिवपुरी और दतिया जिले के किसानों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : आने वाले दिनों में गेहूं की फसल में लग सकता है पीला रतुआ रोग

मुरैना जिले के रामपुर के बेहरेखेड़ा गांव के प्रहलाद आदिवासी अपने आठ बीघा खेत में गेहूं-सरसों उगाते हैं। प्रहलाद 'गांव कनेक्शन' से फोन पर बताते हैं, "पहले सिंचाई के लिए काफी मुश्किल थी। मगर गांव में हमें 05 रुपए में कृषि पंप बिजली कनेक्शन देने के बारे में पता चला तो हमने शिविर से आवेदन किया। अभी काम चल रहा है, जल्द ही हम खेत में आसानी से सिंचाई कर पाएंगे।"

बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक मधु एस. आत्रे 'गांव कनेक्शन' से फोन पर बताते हैं, "इस योजना के लिए जरिए अब तक करीब एक लाख किसानों को 05 रुपए में खेतों में कृषि पंप के लिए बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराए गए हैं। इसमें किसानों को सुविधा दी जा रही है कि 2000 रुपए की कीमत में उपलब्ध कराए जा रहे कनेक्शन की कीमत को छह माह में आने वाले बिल में आसानी से जमा कर सकते हैं।"

यह भी पढ़ें : किसानों ने सीखी सरसों उत्पादन की नई तकनीक

मुरैना जिले के दोदरी ग्राम पंचायत के टेहरा गांव के सरपंच सुरेश सिंह बताते हैं, "पिछले महीने बिजली कंपनी की ओर से हमारे गांव में शिविर लगाया गया जहां किसान आसानी से खेतों में स्थाई बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन कर सके हैं। अभी कई जगह कनेक्शन लग गए हैं और कई जगह लगने हैं, बिजली कंपनी की मुहिम से किसानों को फायदा मिलेगा।"

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन करने किसान को फॉर्म के साथ खसरे की नकल की फोटोकॉपी और आधार कार्ड की फोटोकॉपी लगानी पड़ती है। हालांकि किसान दिन और रात समय पर बिजली मिलने की बात भी कह रहे हैं। प्रदेश सरकार की ओर से किसानों को प्रति दिन दस घंटे बिजली आपूर्ति की बात कही गई है।

इस पहल को लेकर किसान कांग्रेस के मध्य प्रदेश कार्यवाहक अध्यक्ष केदार सिरोही 'गांव कनेक्शन' से बताते हैं, "सबसे बड़ी बात है कि किसानों की खेती की लागत कम होनी चाहिए। इससे पहले बिजली कनेक्शन के लिए पंजीकरण के लिए कई मुश्किलें आ रही थीं। मगर अब छोटे से छोटे गांव में इस योजना से किसानों को फायदा मिल रहा है। जरूरी है कि किसानों की आमदनी बढ़ाई जाए और यह तभी संभव है कि जब हर स्तर पर किसानों की लागत कम की जाएगी। ऐसे में किसानों के लिए सरकार का यह प्रयास बहुत अच्छा है।"


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top