चार हजार रुपए कुंतल गेहूं बेचता है ये किसान, Facebook और WhatsApp के जरिए करता है बिक्री

देश के ज्यादातर किसान अपनी फसल सरकारी रेट पर नहीं बेच पाते,लेकिन मध्य प्रदेश का ये किसान MSP से कई गुना ज्यादा कीमत पर बेचता है अपना गेहूं, देखिए वीडियो

चार हजार रुपए कुंतल गेहूं बेचता है ये किसान, Facebook और WhatsApp के जरिए करता है बिक्री

मंदसौर (मध्य प्रदेश)। गेहूं की कीमत 4000 रुपए प्रति कुंतल... बात थोड़ी हैरान करने वाली है। लेकिन एक किसान है जो अपने खेत का गेहूं बिना की पैकिंग और ब्रांडिंग के 4000 रुपए कुंतल बेचता है। वो अपना गेहूं बेचने बाजार भी नहीं जाता, बल्कि ग्राहक खुद उससे संपर्क करते हैं।

इंदल सिंह चौहान का वीडियो नीचे देखिए

देश में ज्यादातर इलाकों में पिछले वर्ष गेहूं के सीजन में किसानों ने अपना गेहूं 1500-1750 रुपए प्रति कुंतल बेचा था, लेकिन दिल्ली से करीब 700 किलोमीटर दूर मध्य प्रदेश के मंदसौर में रहने वाले इंदल सिंह चौहान का गेहूं 4000 रुपए प्रति कुंतल बिका था। इंदल बंसी प्रजाति का गेहूं बोते हैं और वो भी जैविक तरीके से, जिसके चलते उन्हें ग्राहक भी खोजने में दिक्कत नहीं होती।

गांव कनेक्शन से खास बातचीत में इंदल बताते हैं, "हमें गेहूं बेचने में कभी दिक्कत नहीं होती। पिछले कई वर्षों से मैं बैंग्लुरू गेहूं भेजता हूं। जो लोग अच्छा जैविक अनाज खाना चाहते हैं वो अच्छे रेट भी देते हैं। मैं बाजार से खाद और कीटनाशक कभी नहीं खरीदता, घर पर ही गोमूत्र, जीवामृत, वर्मीकंपोस्ट आदि की मदद से खेती करता हूं।"

इंदल अपने खेत में जो कुछ भी करते हैं, उसकी बीच-बीच में फोटो फेसबुक और व्हाट्सएप ग्रुप पर डालते रहते हैं। इसका फायदा पूछने पर इंदल सिंह चौहान बताते हैं, "बीज बोने से लेकर कटाई तक की जानकारी में शेयर करता रहता हूं, इससे लोगों का भरोसा बढ़ता है कि ये जैविक है। इसलिए लोग फेसबुक या व्हाट्सएप आदि पर संपर्क करते हैं।"

नोट- ये ख़बर अपडेट हो रही है

Share it
Top