रबी फसलों का रकबा बढ़ा, अच्छी पैदावार की उम्मीद

रबी फसलों का रकबा बढ़ा, अच्छी पैदावार की उम्मीद

इस साल रबी फसलों की अच्छी पैदावार हो सकती है। मौसम अनुकूल रहने से रबी फसलों का रकबा पिछले साल की अपेक्षा लगभग 7 फीसदी बढ़ा है। सबसे ज्यादा गेहूं का रकबा 10 फीसदी तक बढ़ा है। वहीं शुरुआती अनुमानों में पिछड़ने के बाद चने की बुवाई ने जोर पकड़ा और पिछले साल की तुलना में रकबा 5.07 लाख हेक्टेयर से ज्यादा बढ़ चुका है।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार देशभर में गेहूं की बुवाई 297.02 लाख हेक्टेयर में हो चुकी है जो पिछले साल (समान अवधि में) की अपेक्षा 9.70 फीसदी (26.67 लाख) से ज्यादा है। वहीं अगर सभी रबी फसलों की बात करें तो कुल रकबा 571.84 लाख हेक्टेयर हो चुका है जबकि पिछले साल इसी समय यह रकबा 536.35 लाख हेक्टेयर था। पिछले साल की अपेक्षा रबी फसलों की बुवाई का रकबा 6.62 फीसदी तक बढ़ चुका है।

रबी सीजन की सबसे प्रमुख फसल दलहन में चना का रकबा भी 94.96 लाख हेक्टयेर तक पहुंच गया है जो पिछले साल की अपेक्षा 5.64 फीसदी ज्यादा है। वहीं दलहनी फसलों का रकबा 140.13 लाख हेक्टेयर हो चुका जो पिछले साल की अपेक्षा 3.30 लाख हेक्टेयर से अधिक है।

यह भी पढ़ें- दिवाली से पहले किसानों को केंद्र सरकार का तोहफा, बढ़ायी रबी फसलों की एमएसपी

लेकिन तिलहनी फसलों का रकबा घटा है। इस साल अभी तक तिलहनी फसलों की बुवाई 74.12 लाख हेक्टेयर में ही हुई है जो पिछले साल की अपेक्षा 60,000 हेक्टेयर कम है। जबकि मोटे अनाजों के प्रति किसानों का रुझान बढ़ा है। चालू रबी सीजन में मोटे अनाजों का रकबा पिछले साल के मुकाबले 4.54 लाख हेक्टेयर बढक़र 46.66 लाख हेक्टेयर हो गया है।

Updating...

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top