महाराष्ट्र सरकार ने किसानों की कर्ज़माफ़ी योजना के लिए आवेदन की समय सीमा बढ़ाई

महाराष्ट्र सरकार ने किसानों की कर्ज़माफ़ी योजना के लिए आवेदन की समय सीमा बढ़ाईमहाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नविस 

मुंबई (भाषा)। महाराष्ट्र सरकार ने आज कर्ज माफी योजना के लिए किसानों से आवेदन प्राप्त करने की समय सीमा को सात दिनों के लिए बढ़ा दिया।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने यहां बताया कि आवेदन प्राप्त करने की समय सीमा आज समाप्त हो रही थी, लेकिन इसे बढ़ा दिया गया है जिससे करीब 44 लाख किसानों को लाभ होगा। अधिकारी ने कहा, “मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि कर्ज माफी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने की तारीख सात दिनों के लिए बढ़ा दी जाए। किसान अब 22 सितंबर तक अपने आवेदन दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस फैसले से उन 44 लाख किसानों को फायदा पहुंचेगा, जो 14 सितंबर तक अपने आवेदन जमा नहीं करा सकें।

ये भी पढ़े- इन बच्चों को पढ़ाना अभय के लिए सिर्फ नौकरी नहीं, 5000 दिव्यांग बच्चों को बना चुके हैं साक्षर

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अभी तक 98,09,248 पंजीकरण हुए हैं, जबकि 50,65,711 आवदेन प्राप्त हुए हैं। राज्य सरकार ने इस वर्ष जून में सीमांत किसानों के लिए 34,000 करोड रुपए की फसल कर्ज माफी की घोषणा की थी। इसे छत्रपति शिवाजी महाराज कृषि सम्मान योजना नाम दिया गया है, जिसका उद्देश्य करीब 89 लाख किसानों को लाभ पहुंचाना है।

कांग्रेस सचिव अल नासीर जकारिया ने कहा कि आवेदन के लिए समयसीमा बढ़ाने का सरकार का फैसला तब तक एक ढकोसला रहेगा जब तक किसानों को कर्ज की वास्तविक राशि का भुगतान ना कर दिया जाए। जहां तक किसानों का संबंध है तो इसमें सरकार का प्रदर्शन काफी खराब है। विपक्षी दल राकांपा के प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि आवेदन प्राप्त करने की ऑनलाइन प्रणाली काम नहीं कर रही है इसलिए सरकार ने समयसीमा बढ़ाई है।

ये भी पढ़े- कर्जमाफी योजना का असल मुद्दा : जिन्होंने समय पर चुकाया कर्ज, उन्हीं ने उठाया नुकसान

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top