पूर्व मंत्री बीडीसी चुनाव भी नहीं जीत सके

पूर्व मंत्री बीडीसी चुनाव भी नहीं जीत सकेपूर्व मंत्री/बसपा जिलाध्यक्ष अजय भारती व बीडीसी उपचुनाव में हराने वाली उपासना सिंह।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

कन्नौज। बसपा सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे अजय भारती क्षेत्र पंचायत सदस्य पद का ही चुनाव हार गए। वर्तमान में वह बसपा जिलाध्यक्ष भी हैं। सूबे में वर्ष 2007 से 2012 तक रही बसपा सरकार में अजय भारती को तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने नागरिक सुरक्षा परिषद उपाध्यक्ष (दर्जा प्राप्त मंत्री) बनाया गया था। वर्तमान में अजय भारती बसपा के कन्नौज जिलाध्यक्ष भी हैं। हसेरन ब्लाॅक क्षेत्र के वार्ड से क्षेत्र पंचायत सदस्य के उपचुनाव में पर्चा भरा। यहां से उपासना सिंह की जीत हुई। इस वार्ड से पहले उपासना सिंह के पति बृजेंद्र सिंह सदस्य थे। कैंसर की वजह से उनका निधन हो गया था। इसके कारण यहां उपचुनाव हुआ।

बसपा जिलाध्यक्ष अजय भारती की जमानत जब्त हो गई है। पड़े वैध मतों का 1/5 वोट होना जमानत के लिए जरूरी होता है।
बिनीत कटियार, एडीईओ, कन्नौज

अजय भारती को महज 147 वोट ही मिले, जबकि 811 वोट पड़े थे। पूर्व मंत्री/बसपा जिलाध्यक्ष की 481 वोटों से करारी हार हुई।

ये भी पढ़ें : कन्नौज में आदेश के बावजूद भी नहीं मिल रही समय से बिजली

करीब डेढ़ साल पहले हुए पंचायत चुनाव में बसपा जिलाध्यक्ष ने हसरेन ब्लॉक क्षेत्र के दो वार्डों से अपनी किस्मत आजमाई थी, लेकिन दोनों ही जगह जमानत जब्त हो गई थी। उसी दौरान पुत्री किशनपुर बसंत और पत्नी भी इंदरगढ़ क्षेत्र से बीडीसी का चुनाव लड़ी थीं। इनको भी हार का सामना करना पड़ा था।

इनकी हुई प्रधान और बीडीसी पर जीत

  • गुगरापुर के क्षेत्र से बीडीसी में रेनू जीतीं
  • हसेरन ब्लॉक क्षेत्र से उपासना सिंह बीडीसी में विजयी
  • सौरिख के सहरोई से भूरी ने प्रधान पद का उपचुनाव जीता
  • तालग्राम ब्लॉक क्षेत्र के सरायप्रयाग से सुनील प्रधान पद पर जीते

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top