केन्द्र सरकार का दावा, छह साल में रिक्त पदों का प्रतिशत घटा

केन्द्र सरकार का दावा, छह साल में रिक्त पदों का प्रतिशत घटा

सरकार ने दावा किया है कि पिछले छह सालों में केंद्र सरकार की नौकरियों में रिक्त पदों की संख्या घटी है। सरकार का कहना है कि पिछले छह सालों में रोजगार के अवसर बढ़े हैं। इसके अलावा खाली पढ़े पदों को भी भरा गया है। इसलिए रिक्त पदों की संख्या कम हुई है।

कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय में राज्यमंत्री डा. जितेन्द्र सिंह ने बृहस्पतिवार को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि स्वीकृत पदों पर रिक्तियों का प्रतिशत छह साल में लगभग 16 प्रतिशत से घटकर लगभग 11 प्रतिशत पर आ गया है। डा. सिंह ने आंकड़ों के हवाले से बताया कि 2013-14 में स्वीकृत पदों में रिक्त पदों का प्रतिशत 16.2 था। इसके बाद इसमें लगातार गिरावट आई।

2014-15 में यह 11.57 प्रतिशत हो गया। जबकि 2015-16 में यह 11.52 प्रतिशत, 2016-17 में 11.36 प्रतिशत रहा। उन्होंने बताया कि 2017-18 में कुल खाली पदों की संख्या 6,83,823 थी। इनमें अधिकांश पद, रेलवे बोर्ड, कर्मचारी चयन आयोग और संघ लोकसेवा आयोग द्वारा भरे जाने थे। इनमें से लगभग आधे से अधिक करीब चार लाख पदों को भरने की प्रक्रिया चल रही है।

यह भी पढ़ें- अगले दो साल में भरे जाएंगे सरकारी नौकरियों के 2.5 लाख पद: केंद्र

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top