Top

ज्योति कुमारी हत्याकांड: साइकिल गर्ल ज्योति पासवान ने कहा- मैं जिंदा हूँ, यह है पूरा मामला

सोशल मीडिया पर लोग ज्योति कुमारी की जगह साइकिल गर्ल के नाम से मशहूर ज्योति पासवान की तस्वीर शेयर कर रहे हैं और कह रहे हैं कि इनकी हत्या हो गयी गई है।

Mithilesh DharMithilesh Dhar   4 July 2020 4:49 PM GMT

ज्योति कुमारी हत्याकांड: साइकिल गर्ल ज्योति पासवान ने कहा- मैं जिंदा हूँ, यह है पूरा मामलासोशल मीडिया पर यह फोटो वायरल हो रही है

'साइकिल गर्ल ज्योति कुमारी की रेप के बाद हत्या कर दी गई, ज्योति को इंसाफ मिलना चाहिए', सोशल मीडिया पर ऐसी कई पोस्ट वायरल हो रही है। सोशल मीडिया ट्वीटर पर #JusticeForJyoti ट्रेंड कर रहा है। इस हैशटैग के साथ साइकिल गर्ल ज्योति पासवान की मौत की खबर शेयर की जा रहीं, उनकी तस्वीरें शेयर की जा रही हैैं।


बिहार के दरभंगा की ज्योति पासवान उस समय सुर्खियों में आईं जब लॉकडाउन के दौरान वे अपने पिता को गुड़गांव से लेकर अपने घर लगभग 1200 किलोमीटर दरभंगा लेकर पहुंचती हैं। इसके बाद से ज्योति को लोग साइकिल गर्ल के नाम से जानने लगे। देश से लेकर विदेश तक उनका नाम हो गया।

फिर चार जुलाई को अचानक सोशल मीडिया पर ज्योति पासवान की रेप कर बाद हत्या की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी।

दरभंगा की ज्योति कुमारी की संदिग्ध अवस्था में मौत की खबर सही है, लेकिन यह साइकिल गर्ल ज्योति पासवान नहीं हैं।


गुरुवार दो जुलाई को दरभंगा के पतोर ओपी क्षेत्र में 13 वर्षीय ज्योति कुमारी का शव मिला। पहले जो खबरें आईं उसमें बताया गया कि ज्योति की रेप के बाद हत्या की गई है। जिस बगीचे में शव मिला वह सेवानिवृत्त फौजी अर्जुन मिश्रा का है। आरोप लगा कि फौजी की पत्नी ने शव को बगीचे में छिपा दिया था। इस आरोप में फौजी और उसकी पत्नी को गिरफ्तार भी किया गया जबकि तीसरे आरोपी की तलाश अभी भी जारी है।

दैनिक भास्कर दरभंगा एडिशन की खबर

शुक्रवार को जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तब दरभंगा एसएसपी बाबू राम ने पत्रकारों को बताया कि ज्योति की मौत करंट लगने के बाद दम घुटने से हुई। पुलिस ने बलात्कार के किसी मामले से इनकार किया। हालांकि यह भी कहा कि तीसरे आरोपी की तलाश जारी है।

पुलिस ने यह भी बताया कि प्रथम दृष्टया यही लग रहा कि ज्योति कुमारी की शव को छिपाने का प्रयास किया गया। उसकी मौत करंट लगने के कारण हुई। आरोपी अर्जुन मिश्रा की पत्नी ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा है कि बगीचे में सुअरों का आतंक था, जिस कारण उसने करंट वाले बिजली के तार लगा रखे थे।

जिला और एक ही नाम के चक्कर पर लोगों को लग रहा कि साइकिल गर्ल ज्योति पासवान की मौत हो गयी। गांव कनेक्शन ने पुष्टि के लिए ज्योति पासवान से बात की। ज्योति ने फोन पर बताया, "मेरे पास भी कई लोगों के फोन आ चुके हैं, लेकिन मैं ठीक हूँ। अभी साइकिल ट्रायल की तैयारी कर रही हूं। मैं तो ज्योति कुमारी को जानती भी नहीं।"

ज्योति पासवान ने दो दिन पहले की अपनी यह फोटो गांव कनेक्शन को भेजी है। वह अपने ट्रायल की तैयारी में व्यस्त हैं।

ये भी पढ़ें- टेक, रीटेक: कैसे मीडिया ने दर्द की टीआरपी भुनाने के लिए ज्योति और उसके पिता की कहानी को बनाया एक और 'पीपली लाइव'

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.