Top

पीएम नरेंद्र मोदी के कोरोना से जुड़ी भाषण की 10 बड़ी बातें, जानें क्या है जनता कर्फ्यू?

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना से लड़ने के लिए रविवार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की। उन्होंने कहा कि यह जनता के द्वारा, जनता के लिए और जनता पर कर्फ्यू होगा।

Daya SagarDaya Sagar   19 March 2020 3:07 PM GMT

देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। भारत में इस महामारी से मरने वालों की संख्या 4 पहुंच चुकी है, वहीं पीड़ित लोगों की संख्या भी 181 तक हो चुकी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार रात आठ बजे देश को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि यह संकट का समय है और सभी देशवासियों को इससे लड़ने की जरूरत है। उन्होंने इसके लिए रविवार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की। आइये देखते है पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन की 10 बड़ी बातें-

1. 130 करोड़ देशवासियों को संकल्प लेना होगा- पीएम मोदी ने कहा कि यह संकट का समय है, इससे हम सबको लड़ने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि 130 करोड़ देशवासियों को संकल्प लेना होगा कि वे इस महामारी को रोकने में अपना योगदान देंगे और अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे।

2. 22 मार्च को जनता कर्फ्यू- इस रविवार 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक सभी देशवासियों को जनता कर्फ्यू का पालन करना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि यह जनता द्वारा, जनता के लिए और जनता पर कर्फ्यू होगा।

3. जरूरी हो तभी घर से निकलें- प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि 65 वर्ष की आयु के ऊपर के व्यक्ति आने वाले कुछ सप्ताह घरों में रहें। देशवासी भी बहुत भी जरूरी हों तभी घरों से निकलें।

4. लोगों को जागरूक करें- हर व्यक्ति कम से कम दिनभर में 10 लोगों को फोन करके कोरोना वायरस के बारे में जागरूक करे। लोगों को जनता कर्फ्यू के बारे में बताएं। यह कर्फ्यू हमारे लिए ही है।

5. अस्पतालों में अनावश्यक भीड़ लगाने से बचें- पीएम मोदी ने कहा कि अस्पतालों में रूटीन चेकअप से बचें ताकि अस्पतालों में अनावश्यक भीड़ ना हो। उन्होंने अनावश्यक सर्जरी ना करवाने की भी सलाह दी।

6. आवश्यक वस्तुओं की ना हो कमी, केंद्र सरकार उठा रही कदम- पीएम मोदी ने देशवासियों को आश्वस्त किया कि देश में दूध, खाने-पीने का सामान, दवाइयां, जीवन के लिए जरूरी ऐसी आवश्यक चीजों की कमी ना हो, इसके लिए केंद्र सरकार लगातार कदम उठा रही है। उन्होंने लोगों से अनावश्यक रूप से घर में सामान नहीं जुटाने की अपील की।

7. सरकार को आर्थिक चुनौतियों का ध्यान, उठा रही जरूरी कदम- पीएम मोदी ने कहा कि सरकार इस महामारी से उत्पन्न हो रही आर्थिक चुनौतियों को ध्यान में रख रही है। इसके लिए वित्त मंत्री के नेतृत्व में सरकार ने एक कोविड-19 इकोनॉमिक रिस्पॉन्स टास्क फोर्स के गठन का फैसला लिया है। यह टास्क फोर्स सुनिश्चित करेगी कि आर्थिक मुश्किलों को कम करने के लिए जितने भी कदम उठाए जा सकते हैं, उन्हें प्रभावी रूप से उठाया जाएगा।

8. लोगों के प्रति करें आभार व्यक्त- पीएम मोदी ने कहा कि इस महामारी से निपटने के लिए शासन-प्रशासन, स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस, एयरपोर्ट कर्मी, रेलवे कर्मी सभी लगे हुए हैं। जनता को उनका आभार व्यक्त कर उन्हें धन्यवाद देना चाहिए।

9. रविवार शाम 5 बजे, 5 मिनट का ताली बजाओ कार्यक्रम- पीएम मोदी ने रविवार को शाम 5 बजे लोगों से अपने घर के दरवाजे, बालकनी और खिड़कियों के सामने खड़े होकर 5 मिनट तक ताली बजाकर लोगों का आभार व्यक्त करने की अपील की। उन्होंने कहा की यह 'सेवा परमो धर्म' के हमारे संस्कारों को दिखाएगा।

10. व्यापार और उद्योग जगत ना करें अनावश्यक दाम में वृद्धि - पीएम मोदी ने व्यापार और उद्योग जगत को इस आपातकाल के समय में आवश्यक चीजों के दाम में वृद्धि ना करने की अपील की। इसके अलावा उन्होंने उच्च आय के लोगों और निजी नियोक्ताओं को अपने कर्मचारियों को वेतन ना काटने की अपील की।

ये भी पढ़ें- कोरोना से शिक्षण कार्य ठप, परीक्षाएं रद्द, कई कॉलेजों में वर्चुअल क्लास के जरिये पढ़ाई

कोरोना वायरस: चीन के वुहान से लौटे इस शख्स ने बताया कितने खतरनाक हैं हालात


Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.