कारगिल विजय दिवस: राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी सहित नेताओं ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि

कारगिल विजय दिवस: राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी सहित नेताओं ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि

कारगिल विजय दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जम्मू कश्मीर के दौरे पर हैं। उन्होंने श्रीनगर के बदामीबाग छावनी में स्थित युद्ध स्मारक में पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

वह कारगिल विजय दिवस के 20 वर्ष पूरा करने के अवसर पर द्रास युद्ध स्मारक जाने वाले थे, लेकिन खराब मौसम के कारण वह नहीं जा सकें। वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने युद्ध के दौरान कारगिल दौरे की तस्वीरें साझा की। पीएम ने अपने दौरे और जवानों के साथ बातचीत करने वाली तस्वीरें शुक्रवार को साझा की।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "साल 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान मुझे कारगिल जाने और हमारे बहादुर सैनिकों के साथ एकजुटता दिखाने का अवसर मिला। कारगिल का दौरा और सैनिकों के साथ बातचीत अवस्मिरणीय है।"

प्रधानमंत्री ने बताया कि साल 1999 में वह जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भाजपा के लिए काम कर रहे थे। तस्वीरों में पीएम मोदी सैन्यकर्मियों से बातचीत करते और घायल सैनिकों से मुलाकात करते दिखाई दे रहे हैं।

लोकसभा ने जवानों के शौर्य और बलिदान को किया याद

कारगिल युद्ध में विजय के 20 साल पूरा होने के अवसर पर लोकसभा ने शुक्रवार को जवानों के शौर्य और बलिदान को याद किया। सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा कि 1999 में आज के ही दिन हमारे जवानों ने अपने शौर्य और बहादुरी का परिचय देते हुए पाकिस्तान के सैनिकों एवं घुसपैठियों को खदेड़ दिया था।

उन्होंने कहा कि कारगिल विजय दिवस के मौके पर यह सदन देश को बधाई देता है और अपने जवानों के शौर्य और पराक्रम को याद करता है। सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि 20 साल पहले हमारे जवानों ने जिस बहादुरी का परिचय दिया उस पर पूरे देश को गर्व है। इस युद्ध के समय में देश के हर घर में इसकी चर्चा थी।

चौधरी ने कहा कि हमारी मांग है कि इस सत्र में कारगिल युद्ध में हमारे जवानों की विजय पर एक चर्चा कराई जाए। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कारगिल युद्ध के 20 साल पूरा हो गए और इस मौके पर देश में कई विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए। उन्होंने कहा कि हमारे जवानों के शौर्य, पराक्रम और शहादत को यह देश कभी भूल नहीं सकता।

नेताओं और मुख्यमंत्रियों ने दी श्रद्धांजलि

कारगिल विजय दिवस पर नेताओं और राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी जवानों को श्रद्धांजलि दी। ममता ने ट्वीट किया, "कारगिल विजय दिवस के अवसर पर भारतीय सशस्त्र बलों को सलाम। देश के लिए जीवन का बलिदान देने वालों को श्रद्धांजलि। भारतीय सशस्त्र बल और मजबूत होते रहें। जय हिंद।"

(भाषा से इनपुट)

यह भी पढ़ें- कारगिल विजय दिवस : वो तस्वीरें जो भारतीय सेना के संघर्ष की कहानी बयां करती हैं

'कृपया यहां गाड़ी न रोके‍ं, आप दुश्मन के सीधे निशाने पर हैं' : करगिल युद्ध के रिपोर्टर की डायरी



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top